BREAKING NEWS
Hindi News

Health News

प्रतिष्ठित भारतीय प्रौद्योगिक संस्थान (आईआईटी) दिल्ली के छात्रों ने सांप के जहर के प्रभाव को निष्क्रिय करने के लिए एक किफयाती और अधिक प्रभावी उपाय विकसित किया है। यह अनुसंधान अमेरिका के सैन जोस विश्वविद्यालय के सहयोग किया गया है।
सर्दी में अदरक की चाय पीना सभी को पसंद होती है। लेकिन आप अदरक में मौजूद गुणों से अनजान होंगे। अदरक में कई औषधीय गुण होते हैं जो हमारे शरीर के लिए लाभदायक होते हैं। अदरक में कई बीमारियों से लड़ने की क्षमता होती है।
आजकल काम के प्रेशर के चलते और बदलते खानपान से इंसान समय से पहले बूढ़ा होने लगा है। इसलिए अपने आप को जवां दिखाने के लिए बॉडी मसाज से लेकर अलग-अलग थैरेपी लेते हैं। महिलाएं सुंदर दिखने के लिए हर महीने पार्लर पर जाकर पैसे खर्च करती है।
एचआईवी पॉजीटीव लोगों को सामान्य व्यक्ति के बराबर अधिकार देने के लिए नया अधिनियम लागू किया गया है। सरकार ने एचआईवी तथा एड्स प्रभावितों व्यक्तियों को सुरक्षा प्रदान करने वाले अधिनियम को लागू करने संबंधी अधिसूचना जारी कर दी है।
कई लोगों को घूमने का शौक होता है वहीं कुछ को सफर के नाम से डर लगने लगता है। अगर आपको सफर को मजेदार बनाना है तो पहले से उसकी प्लानिंग करनी होगी ताकि आपको कोई प्रॉब्लम न हो। इसके लिए आपको कुछ टिप्स दे रहें है जिनसे आपका सफर आरामदायक
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को बताया कि एनीमिया या खून की कमी का स्तर हर वर्ष सिर्फ एक प्रतिशत की दर से घट रही है और सरकार ने तय किया कि राष्ट्रीय पोषण अभियान के तहत इस गति को तीन गुना किया जाए।
इंसान खुद को स्वस्थ रखने  के लिए एक्सरसाइज करता है। वहीं अगर आपने घर में बुजुर्ग लोगों को देखा होगा कि वे अक्सर कई बीमारियों में नीम के पत्तों का इस्तेमाल करते हैं। यहां तक की दातुन भी नीम से ही करते हैं। इससे दातुन करने से दांत का दर्द दूर होता है।
हाल में हुए एक अध्ययन में चेतावनी दी गई है कि अस्पतालों के शौचालयों में जेट-एयर हैंड ड्रायर का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि ये एक बार इस्तेमाल होने वाले पेपर टॉवल (टिशू पेपर) के मुकाबले ज्यादा रोगाणु फैलाते हैं।
वैज्ञानिकों ने एक ऐसे अणु की पहचान की है जिसका समावेश त्वचा कैंसर के विरुद्ध प्रतिरोधक तंत्र की मारक क्षमता बढ़ाने के लिए कैंसर टीके में किया जा सकता है। पीएनएएस पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार डाइप्रोवोसिम नामक इस अणु को वर्तमान टीके में मिलाने
आजकल स्कूलों में बच्चों की आयु और हाइट से ज्यादा वजन उनके बैग में होता है। केजी और पीजी के बच्चों के बैग में किताबों का वजन उनकी उम्र से दुगुना होता है। समय के साथ स्कूल के बच्चों के बैग का वजन भी बढ़ता जा रहा है।

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.