BREAKING

HomeJain-dharam
मुनिश्री विनयकुमारजी आलोक ने कहा कि यह बड़ा ही गूढ़ प्रश्न है सभी की भिन्न-भिन्न प्राथमिकताएं होती हैं। उन्हें प्राप्त करने का ढंग भी अलग-अलग होता है।
श्रुत पंचमी कि अक्षुण परम्परा में गुलाबी नगर जयपुर शहर के मध्य स्थित दिगम्बर जैन मंदिर कीर्ति नगर, टोंक रोड कि पावन धरा पर आगामी मंगलवार, दिनाँक 30 मई को गणिनी...
आचार्यश्री विद्यासागरजी महाराज के शिष्य मुनिश्री प्रमाणसागरजी महाराज ने कहा कि दिगम्बर जैनाचार्य श्री ज्ञानसागरजी महाराज सम्पूर्ण भारत भूमि पर ऐसे महान...
आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज के शिष्य मुनिश्री प्रमाणसागरजी महाराज
श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र मन्दिर संघीजी सांगानेर में संत शिरोमणी आचार्यश्री 108 विद्यासागरजी महाराज के आज्ञानुवर्ती शिष्य मुनि पुंगव सुधासागरजी महाराज...
मां मंगल है, पूज्य है, मां से कभी मांगकर रोटी मत खाना। घर में भी अगर भोजन मांगना पड़े तो जीवन बेकार है।
आचार्यश्री विद्यासागरजी महाराज के शिष्य मुनिश्री प्रमाणसागरजी महाराज ने कहा कि भारतीय संस्कृति में इतिहास से लेकर आज तक सबसे ज्यादा स्थान परमार्थ को दिया...
जैन धर्म के 13वें तीर्थंकर भगवान विमलनाथ का गर्भ कल्याणक महोत्सव दिगम्बर जैन समाज द्वारा उत्साह और उमंग के साथ मनाया गया।
आचार्यश्री विद्यासागरजी महाराज के शिष्य मुनिश्री प्रमाणसागरजी महाराज ने रविवार प्रात: वण्डर सीमेंट वक्र्स निम्बाहेड़ा में धर्मसभा को संबोधित किया।
आचार्यश्री विद्यासागरजी महाराज के शिष्य मुनिश्री प्रमाणसागरजी महाराज ने गुरुवार शाम को दुर्ग स्थित कीर्ति स्तम्भ भगवान मल्लिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में...

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.