BREAKING NEWS
Hindi News

Jain-dharam News

मुनि पुंगव श्री सुधा सागर जी महाराज ने समूचे विश्व में व्याप्त जल संकट की भयावहता पर अपने विचार व्यक्त करते हुए सारे विश्व के नागरिकों से आने वाली पीढ़ी के भविष्य के लिए जल बचाने का संदेश दिया।
सुदर्शनोदय तीर्थ आंवा चातुर्मास में पर्युषण पर्व में मुनि पुंगव श्री सुधासागर महाराज, महासागर महाराज ,निष्कम्प सागर महाराज ,गंभीरसागर ,धैर्यसागर महाराज के सानिध्य में चल रहे 27 वें श्रावक संस्कार शिविर में सुधा सागर जी महाराज
सुगन्ध दशमी पर दिगंबर जैन मंदिरों में बुधवार को चारों ओर धूप की भीनी-भीनी और सुगंधित खुशबू बिखरी रही। दशलक्षण पर्व के अंतर्गत भाद्रपद, शुक्लपक्ष में आने वाली दशमी के दिन जैन समाज के सभी लोग सुगंध दशमी पर्व मनाते हैं।
दिगम्बर जैन समाज के चल रहे दशलक्षण पर्व समारोह के तहत मंगलवार को वीतराग धर्म का उत्तम सत्य लक्षण भक्तिभाव से मनाया गया। मंदिरों में प्रात: अभिषेक, शांतिधारा के पश्चात् दशलक्षण धर्म की विधान मण्डल पर अष्टद्रव्य से पूजा की गई।
तरुण क्रांति मंच एवं नवकार युवा मण्डल की ओर से जैन कनेक्ट ऐप के माध्यम आयोजित कड़वे प्रवचनों के लिए प्रसिद्ध राष्ट्रसंत मुनि श्री तरुण सागर जी महाराज पर आधारित प्रश्नमाला ज्ञान धर्म
मुनि पुंगव सुधा सागर जी महाराज ने कहा कि मनुष्य असीमिति शक्तियों का स्वामी है, इनमे से कई सुसुप्त और भीतर छुपी अवस्था में रहती है, ध्यान से इन्हें जागृत किया जा सकता है।
श्री 1008 आदिनाथ नवग्रह पंचबालयति दिगम्बर जैन मंदिर में पर्युषण पर्व शुक्रवार से शुरू हुआ। पर्युषण पर्व का उत्साह पूरी जैन समाज में देखने को आ रहा है।
श्री जैन श्वेताम्बर समाज मूर्ति पूजक संघ के अध्यक्ष राजेन्द्र रंगावत, उपाध्यक्ष कान्तिचंद श्रीमाल ने बताया स्वाध्याय भाई अभिषेक एवं रजनीश ने कहा कि जिस प्रकार कैमरे में लैंस के ऊपर धूल आ गई हो तो फोटो अच्छे नहीं बनते है इसके लिए धूल साफ करनी पडती है।
जैन धर्म में संथारा अर्थात संलेखना- संन्यास मरण या वीर मरण कहलाता है। यह आत्महत्या नहीं है और यह किसी प्रकार का अपराध भी नहीं है बल्कि यह आत्मशुद्घि का एक धार्मिंक  कृत्य एवं आत्म समाधि की मिसाल है और मृत्यु को महोत्सव बनाने का अद्भुत एवं विलक्षण उपक्रम है।
राजस्थान राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जसबीर सिंह ने कहा कि जैन संत तरुण सागर के कड़वे प्रवचन आने वाली कई पीढिय़ों को रास्ता दिखाते रहेंगे।

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.