BREAKING

HomeJain-dharam
जीवन में व्यक्ति को किसी न किसी रूप में दूसरे की जरूरत पड़ती है। मनुष्य को इस बात का अहंकार नहीं करना चाहिए कि मुझे किसी की जरूरत नहीं पड़ेगी।
परायों से लेना है तो गलत तरीका अपनाना पड़ता है। हम भी परायों को नहीं दे सकते हैं यह बात हमारे जैसे साधुओं को बताना गलत है।
वस्तु में उपादान व निमित शक्ति होती है। हम जितना पुण्यवान बन सकते हैं उतना ही पापी भी बन सकते हैं। क्रोध करने वाले में क्षमा करने की शक्ति नहीं होती।
मुनि सुधासागर महाराज महाराज ने आर.के. कम्यूनिटी सेंटर में सोमवार को मंगल प्रवचन देते हुए कहा कि भगवान, धर्म, गुरू भक्त को खूब देना चाहते है लेकिन वह भक्त को...
मुनि श्री सुधासागर महाराज ने शुक्रवार को आर.के. कम्यूनिटी सेंटर में चातुर्मास के दौरान मंगल प्रवचन देते हुए कहा कि मनुष्य की सभी क्रिया व विचारों में अन्तर...
मुनिश्री सुधा सागर जी महाराज ने गुरुवार को आरके कम्यूनिटी सेंटर में धर्मसभा में कहा कि क्रिया पर नहीं लक्ष्य पर ध्यान देना चाहिए।
मुनि श्री सुधासागर जी महाराज ने 4अक्टूबर बुधवार को आर.के. कम्यूनिटी सेंटर में धर्मापदेश देते हुए कहा कि व्यक्ति छोटी सी गलती से नीचे गिर जाता है।
मुनि पुंगव श्री सुधा सागर जी महाराज ने मंगलवार को आरके कम्यूनिटी सेंटर में धर्मसभा में कहा कि संसार में ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है जिसने पाप नहीं किया हो।
मुनि पुंगव श्री सुधा सागर जी महाराज ने सोमवार को आरके कम्यूनिटी सेंटर में धर्मसभा को संबोधित करते हुए कहा कि जिंदगी में असमर्थ होने व इच्छाएं पूरी नहीं होने पर...
मुनि पुंगव श्री सुधा सागर जी महाराज ने आरके कम्यूनिटी सेन्टर में धर्मसभा में कहा कि व्यक्ति को जब यह अनुभूति हो जाए

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.