BREAKING NEWS
Hindi News

Opinion News

सुप्रीम कोर्ट ने बीते सप्ताह विधि मंत्रालय से पूछा कि उसके आदेश के बावजूद कुछ वर्षों में उम्मीदवारों की संपत्ति व आय में वृद्धि की निगरानी करने के लिए स्थायी तंत्र क्यों नहीं बनाया? अदालत ने मंत्रालय के विधायी विभाग के सचिव से दो हफ्ते में जवाब देने को कहा है।
लोकसभा के आम चुनाव की तारीख की घोषणाओं के साथ राजनीतिक दल जहां एक लड़ाई जमीन पर लड़ने के लिए तैयार हो गए हैं, वहीं एक लड़ाई का आगाज सोशल मीडिया पर भी हो जाएगा।
समय और सोच तय करती है जीवन की दिशा और दशा। हर समस्या का समाधान समय है, समय के दिमाग में सब कुछ होता है वह कठिन से कठिन समस्याओं को हवा कर देता है।
शंका और डर मनुष्य की प्रगति के घोर विरोधी है क्योंकि भय ग्रस्त और शंकालु व्यक्ति कभी भी समृद्ध नहीं हो सकता है क्योंकि परस्पर विरोधी विचारधारा उसकी प्रगति में बाधक होती ही है।
लोकसभा चुनाव में इस बार जो नया होने जा रहा है, वह यह कि यह पहला ऐसा आम चुनाव है, जब 21वीं सदी में जन्मे लोग पहली बार मतदान करेंगे।
किसी किसी ने अपने जीवन में कर्म के महत्व को समझ लिया, उसके यहां कभी भी किसी भी प्रकार की कमी नहीं रही, अर्थात् ऐसे व्यक्ति ने सब कुछ पा लिया क्योंकि किसी ने ठीक ही कहा है कि कर्म की होती सदा ही जीत प्यारे साथियों, है यही आदर्श जीवन का हमारे साथियों।
चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों से चुनाव अभियान में सैनिकों और सैन्य अभियानों की तस्वीर का इस्तेमाल करने से बचने का आग्रह किया है।
एक राजस्थानी कहावत प्रचलित है ‘जिसकी अंटी में हो रूपल्ली उसकी रोही में भी चली’ जिसका सीधा सा अर्थ है जिसकी जेब नकदी रुपए हो, उसकी जंगल में भी चलती है।
अक्सर लोगों को चर्चा करते हुए देखा और सुना जाता है किसी के जीवन के बारे में। लोग व्यक्तियों के जीवन के बारे में नकारात्मक  और सकारात्मक चर्चा करते रहते हैं लेकिन यह भूल जाते हैं कि लोग उनकी भी चर्चा तो करेंगे।
कच्चे तेल में लगातार उछाल से पेट्रोल के दाम फिर अप्रैल-मई तक 75 रुपए लीटर के पार जाने के आसार है। डीजल भी अगले दो माह में 70 रुपए की ऊंचाई को छू सकता है। यहां यह बता दें कि पेट्रोल दो माह में करीब 4 रुपए बढ़ चुका है।


Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.