इन खूबियों के कारण सेना की सबसे पसंदीदा कार रही Maruti Gypsy, इस वजह से 33 सालों बाद बंद हो रहा है प्रोडक्शन

Samachar Jagat | Tuesday, 05 Mar 2019 11:02:20 AM
For this reason Maruti Gypsy production is Stopped after 33 years

इंटरनेट डेस्क। मारूति सुजुकी ने Gypsy का प्रोडक्शन बंद कर दिया है, खबरों की मानें तो ये निर्णय कंपनी द्वारा नए नियमों को ध्यान में रखकर लिया गया है। इस एसयूवी को 1985 में भारत में लांच किया गया था और पिछले 33 सालों से इसमें ज्यादा बदलाव नहीं किया गया है। साल 2019 के अप्रैल और अक्टूबर माह में कुछ नए सुरक्षा संबंधित नियम ऑटो सेक्टर में लागू हो रहे हैं जिनका पालन करना सभी वाहन कंपनियों को आवश्यक होगा और अगर मारूति इन नियमों का पालन करती है तो उसे Gypsy कार को दोबारा डिजाइन करना पड़ेगा। इसी वजह से कंपनी ने इस कार का निर्माण बंद करने का निर्णय लिया है। 

इस वजह से रही सेना की पसंदीदा कार :-

आपको बता दें कि मारूति Gypsy को सबसे ज्यादा भारतीय सेना ने पसंद किया और खबरों की मानें तो कंपनी ने 30 हजार से ज्यादा मारूति Gypsy सेना को दी हैं। सेना की पसंदीदा कार रहने के पीछे का कारण ये है कि Gypsy का वजन मात्र 985 किलोग्राम है और ​कम वजनी होने के कारण ये बर्फीले और कीचड़ वाले मुश्किल रास्तों पर भी आसानी से चलती है और इसे कम पावर वाले हेलिकॉप्टर या एयरक्राफ्ट की मदद से आसानी से ऊंचाई वाली जगहों पर पहुंचाया जा सकता है। 

वहीं ये भार ढोने के मामले में भी अन्य कारों से आगे है, इसमें 500 किलोग्राम तक का भार ढोने की क्षमता है जिसकी वजह से ये सेना के बहुत काम आती है। आपको बता दें कि मारूति जिप्सी को जब लांच किया गया तब इसमें सिंगल पेट्रोल इंजन ऑप्शन दिया गया और बाद में इसे अपग्रेड कर इसमें 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स वाला 1.3-लीटर इंजन लगाया गया।

Wagon R के Electric वर्जन को लांच करने की तैयारी में मारूति सुजुकी, एक बार चार्ज करने के बाद चलेगी 200​ किमी

Renault Kwid EV की तस्वीरें हुईं लीक, साल 2022 तक भारत में हो सकती है लांच



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
रिलेटेड न्यूज़
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.