एलपीजी/सीएनजी-पेट्रोल दोनों से चलने वाले स्कूली वाहन प्रतिबंधित

Samachar Jagat | Friday, 14 Sep 2018 12:09:37 PM
School buses running LPG / CNG-Petrol are banned

ग्वालियर। मध्यप्रदेश के ग्वालियर के क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी (आरटीओ) ने स्कूली बच्चों को लाने ले जाने में उपयोग किए जाने वाले ऐसे वाहनों को तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित करने के आदेश जारी किए हैं जो एलपीजी/सीएनजी-पेट्रोल दोनों प्रकार के ईंधन से चलते हैं। ग्वालियर के आरटीओ एम पी सिंह द्बारा जारी आदेश में स्पष्ट किया गया है कि स्कूली बच्चों के परिवहन में दुर्घटना होने कई मामले सामने आए हैं, जिनमें वाहन में एलपीजी/सीएनजी एवं पेट्रोल दोनों प्रकार के ईंधनों का उपयोग किया जाता है।

मारुति ने बलेनो के वेटिंग पीरियड को कम करने के लिए निकाला यह तरीका, जानें अब कितना करना होगा इंतजार

ऐसे वाहनों का उपयोग स्कूली बच्चों के परिवहन में प्रतिबंधित किया गया है। गत दिनों एलपीजी/सीएनजी एवं पेट्रोल से संचालित स्कूल वैन में आग लगने की घटना में लापरवाही को देखते हुए वाहन का पंजीयन प्रमाण पत्र तथा चालक का ड्रायविग लायसेंस तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दिया गया है। इस आदेश का उल्लंघन पाया जाता है तो वाहन चालक का लायसेंस एवं वाहन पंजीयन निरस्त करने के साथ साथ मोटरयान अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी।

Piaggio india फेस्टिव सीजन के तहत इन स्कूटर पर दे रही ऑफर

सिंह ने अपने आदेश में माता-पिता एवं अभिभावकों को भी सलाह दी है कि वे भी यह सुनिश्चित करें कि उनके बच्चों के आने जाने के लिए स्कूल प्रबंधन द्बारा उपलब्ध कराई गई वाहन व्यवस्था पूरी तरह सुरक्षित है। किसी भी स्थिति में एलपीजी/सीएनजी एवं पेट्रोल दोनों से चलित निजी वाहनों से अपने बच्चों को स्कूल न भेजें। आपको बता दें कि इन दिनों इलेक्ट्रिक वाहनों पर काम किया जा रहा है। प्रदूषण से निपटने के लिए ऑटो मोबाइल कंपनियां अपने सभी मॉडल को इलेक्ट्रिक बनाने की कोशिश कर रही है।- एजेंसी

2000 रुपए तक की इन एक्सेसरीज से सिंपल कार को ऐसे बनाएं लक्ज़री कार

विराट बने हीरो मोटोकॉर्प के ब्रांड एंबेसडर

 

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.