अगर आप भी ट्रेन से टू-व्हीलर ले जा रहे हैं दूसरे राज्य तो ध्यान रखें ये जरूरी बातें

Samachar Jagat | Wednesday, 05 Sep 2018 12:49:55 PM
Tips to transfer your two wheeler via train to other

ऑटो डेस्क। आजकल लोगों की जॉब लोकेशन बदलती रहती है। वहां पर सुविधा के लिए बाइक या स्कूटर भी होना चाहिए। लेकिन हर जगह हम गाड़ी नहीं खरीद सकते। इसलिए आजकल ट्रांसपोर्ट की सुविधा भी है। हम बाइक या स्कूटर को एक जगह से दूसरी जगह पर ले जा सकते हैं। लेकिन बात जब एक राज्य से दूसरे राज्य में ट्रेन से ले जाने की हो तो कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। ट्रेन से टू-व्हीलर ट्रांसपोर्ट करने से 2 तरीके है। आप पार्सल से और दूसरा लगेज के तौर पर बुक कर सकते हैं। 

5999 रुपए में घर ले जाएं होंडा 125cc बाइक CB शाइन

अगर आप खुद ट्रेन में बाइक के साथ नहीं जा रहे है तो आपको ध्यान रखना जरूरी है। बाइक में चैक करें कि पेट्रोल न हो। टैंक पूरी तरह से खाली होना चाहिए। टू-व्हीलर के साथ कार्डबोर्ड पर जाने और पहुंचने वाले स्टेशन को साफ तरीके से लिखें। पार्सल से बुक कराने के लिए टू-व्हीलर के रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट की फोटोकॉपी के साथ पार्सल ऑफिस जाना होगा। इसके अलावा एक फॉर्म में बोर्डिंग स्टेशन और डेस्टिनेशन स्टेशन की डिटेल्स, पोस्टल एड्रेस, व्हीकल कंपनी, रजिस्ट्रेशन नंबर, व्हीकल का वजन और व्हीकल की कीमत भरनी होगी।

टाटा मोटर्स की जगुआर आई-पेस बनी शाही परिवार की पहली इलेक्ट्रिक कार, ब्रिटेन के प्रिंस चार्ल्स ने खरीदी यह कार

वहीं अगर बाइक साथ ट्रेन में सफर कर रहे है तो वह लगैज के तौर पर ट्रांसपोर्ट होगी। इसके बाद आपको स्टेशन पर समय से पहले पहुंचकर टू-व्हीलर की पैकिंग, लेबलिंग और मार्किंग करानी होगी। साथ ही आपको पेमेंट का लगेज टिकट मिलेगा जिसे टिकट के साथ दिखाना होगा। जब टू-व्हीलर की डिलिवरी होगी तब भी लगेज टिकट को ट्रेन टिकट के साथ देना होगा। टू-व्हीलर को ले जाते समय उसकी पैकिंग अच्छे से होनी चाहिए ताकि रास्ते में बाइक के किसी पार्ट्स को नुकसान न हो। 

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.