रोजगार सृजन के आंकड़े जुटाने की भरोसेमंद प्रणाली जरूरीः एसोचैम

Samachar Jagat | Monday, 11 Jun 2018 12:24:49 PM
A reliable system of mobilization of employment generation is essential: Assocham

नई दिल्ली। उद्योग संगठन एसोचैम ने रोजगार सृजन के आंकड़े जुटाने की भरोसेमंद प्रणाली विकसित करने की जरूरत पर बल देते हुए कहा है कि इससे सरकारी नीतियां और विभिन्न क्षेत्रों की नीतियां अनुकूल हो पायेंगी। संगठन के महासचिव डी एस रावत ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था का बड़ा हिस्सा अब संगठित हो रहा है और ऐसे में रोजगार सृजन के आंकड़ों को एकत्रित करने में परेशानी नहीं आएगी।

सौर ऊर्जा नीलामी के एक और बार टलने की आशंका

इसके लिए नमूना सर्वेक्षण के पारंपरिक तरीके की जरूरत नहीं। वेतन अब बैंक के माध्यम से दिया जाता है और सिर्फ बैंकों के सैलरी डाटा को जमा करके और इसकी तुलना करके रोजगार सृजन के आंकड़े निकाले जा सकते हैं। एसोचैम के मुताबिक रोजगार सृजन के आंकड़े पता करने का मौजूदा तरीका लचीला है और इससे क्षेत्रवार रोजगार सृजन का पता नहीं चल पाता। नए तरीके में सबसे पहले बैंकों में खुले नए सैलरी खाते का आंकड़ा निकालना होगा और पैन नंबर के जरिए यह पता लगाना होगा कि संबंधित व्यक्ति ने सिर्फ नौकरी बदली है या यह नयी नौकरी है। 

वालमार्ट-फ्लिपकार्ट सौदे में संरचनात्मक बदलाव सुझा सकता है सीसीआई

संगठन के अनुसार, किसी भी सुदृढ़ अर्थव्यवस्था के लिए रोजगार आंकड़े महत्वपूर्ण होते हैं ताकि इनके जरिए सरकारी नीतियों को ब्याज दर, कल्याणकारी योजनाओं, निवेश पहल और कराधान के अनुकूल बनाया जा सके। रोजगार आंकड़े जमा करने की शुरूआत पहले संगठित क्षेत्र से कर देनी चाहिए। राष्ट्रीय आर्थिक नीतियों का निर्माण आंकड़ों पर आधारित होना चाहिए न कि इधर-उधर से प्राप्त जानकारियों के आधार पर। इन आंकड़ों को जमा करने के लिए एक केंद्रीय एजेंसी होनी चाहिए। अधिक विभाग और एजेंसियों को अपने-अपने आंकड़े नहीं जारी करने देने चाहिए। केंद्रीय एजेंसी को सभी जानकारियों को एक जगह जमा करके और फिर उसे जारी करना चाहिए।-एजेंसी

वीमार्ट की 300 करोड़ रुपए निवेश कर स्टोर की संख्या दो गुणी करने का लक्ष्य



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.