अफगानिस्तान-भारत-अमेरिका का चैंबर ऑफ कॉमर्स बने:राजदूत

Samachar Jagat | Friday, 13 Jul 2018 02:42:52 PM
Afghanistan-India-US Chamber of Commerce should be formed

नई दिल्ली। अफगानिस्तान के राजदूत शैदा मोहम्मद अब्दाली ने आपसी व्यापार को बढावा देने के लिए अफगानिस्तान, भारत और अमेरिका के बीच त्रिपक्षीय चैम्बर ऑफ कॉमर्स बनाने पर जोर दिया है । अब्दाली ने आज यहां यूएसएड की ओर से अफगानिस्तान के मेवों और कृषि उत्पादों की प्रदर्शनी में आये व्यापारियों के प्रतिनिधि मंडल को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस तरह के चैम्बर ऑफ कॉमर्स के गठन से निजी व्यापार को बढावा मिलेगा और इन देशों के उत्पाद तक आम लोगों की पहुंच होगी।

ऑनलाइन शॉपिंग के मामले में यहां के लोग हैं सबसे आगे, मुंबई और दिल्ली वालों को पीछे छोड़ा

उन्होंने कहा कि भारत और अफगानिस्तान के बीच व्यापार बढ रहा है और उनके देश ने वर्ष 2020 तक भारत में अपने व्यापार को दो अरब डॉलर करने का लक्ष्य निर्धारित किया है । राजदूत ने भारत की ओर से अफगानिस्तान को दी जा रही आर्थिक मदद की सराहना करते हुए कहा कि दोनों देशों में बिजनेस हाउस बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान की अर्थव्यवस्था में कृषि का भारी योगदान है और करीब 80 प्रतिशत लोगों की आय का मुख्य स्त्रोत खेती ही है। अफगानिस्तान अब परंपरागत कृषि की जगह नयी-नयी तकनीकों को अपना रहा है जिससे किसानों की आय में भी वृद्धि हो रही है ।

अमेरिका की धनाढ्य महिलाओं की सूची में दो भारतीय मूल की उद्यमी शामिल

उन्होंने कहा कि किसानों को कृषि उत्पादों के प्रसंस्करण के लिए आधारभूत सुविधायें तथा आधुनिक तकनीकें उपलब्ध करायी जा रही हैं। भारत से अफगानिस्तान में कोल्ड स्टोरेज के क्षेत्र में निवेश करने का अनुरोध करते हुए उन्होंने कहा कि यह लाभदायक रहेगा। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान और भारत के बीच सदियों पुराना संबंध है और एक समय काबुल तथा कोलकाता व्यापार के प्रमुख केन्द्र होते थे । - एजेंसी 

रिलायंस जियो की Jio GigaFiber सर्विस से बीएसएनएल और भारती एयरटेल को होने लगी चिंता



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.