अलीबाबा के संस्थापक जैक मा 2019 में होंगे सेवानिवृत्त, सीईओ को बनाया उत्तराधिकारी

Samachar Jagat | Monday, 10 Sep 2018 03:21:20 PM
Alibaba's founder Jack Ma will be retired in 2019

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

बीजिंग। चीन की ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा के संस्थापक और अरबपति कारोबारी जैक मा अगले वर्ष कंपनी के कार्यकारी चेयरमैन पद से सेवानिवृत्त होंगे और कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) डेनियल झांग उनके उत्तराधिकारी होंगे। जैक मा ने सोमवार को अपने 54वें जन्मदिवस पर इसकी घोषणा की। अलीबाबा के स्वामित्व वाले अखबार साउथ चाइना 'मॉर्निंग पोस्ट’ ने कहा कि 54 वर्षीय जैक मा डेनियल झांग (46) को अपनी जिम्मेदारी सौंपेंगे। जैक मा की ओर से सभी कर्मचारियों को लिखे पत्र के अनुसार, झांग को 10 सितंबर 2019 को कंपनी के कार्यकारी चेयरमैन के पद पर पदोन्नत किया जाएगा जबकि जैक मा कंपनी के निदेशक मंडल और अलीबाबा पार्टनरशिप के स्थायी सदस्य बने रहेंगे।

जैक मा ने कहा कि ’’सुलभ और सफल’’ बदलाव सुनिश्चित करने के लिए जैक मा एक वर्ष की अवधि के लिए कार्यकारी चेयरमैन बने रहेंगे और 2020 में शेयरधारकों की बैठक तक अलीबाबा के निदेशक रहेंगे। जैक ने सोमवार को अपने जन्मदिन के अवसर पर अपनी सेवानिृवत्ति योजना की घोषणा की। मा की सेवानिवृत्ति को लेकर भ्रामक रिपोर्ट आने के बाद योजना को सार्वजनिक किया गया। न्यूयॉर्क टाइम्स ने शुक्रवार को कहा था कि जैक मा अपने जन्मदिन के दिन सेवानिवृत्ति की घोषणा करने वाले हैं और वह इसके बाद परमार्थ कार्यों पर ध्यान देंगे।

हालांकि, साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने इसका खंडन करते हुए कहा कि जैक मा सोमवार को अपने 54वें जन्मदिन के मौके पर कंपनी में उनका उत्तराधिकार संभालने की रणनीति बताएंगे। हालांकि वह आगे भी कंपनी के कार्यकारी चेयरमैन बने रहेंगे। चीन के पूर्वी झेरजयांग प्रांप के हांगझोऊ नगर के एक गरीब परिवार में पैदा जैक मा ने पढ़ाई लिखाई करके अंग्रेजी के अध्यापक बने। 1990 के दशक में इंटरनेट क्रांति से परिचय होने पर उन्होंने नौकरी छोड़ कर अपना कारोबार शुरू करने की ठानी।

जैक मा ने अपने दोस्तों को राजी कर उनसे 60,000 डालर की राशि जुटा कर अपना आनलाइन क्रय-बिक्रय की सुविधा देने वाला इंटरनेट बाजार मंच अलीबाबा चालू किया। वह 2013 में कंपनी के सीईओ बनाए गए। शेयर बाजार के हिसाब से जैक मा की कंपनी की हैसियत करीब 421 अरब डालर (30,312 अरब रुपए) की है। कंपनी की हैसियत के साथ उनकी भी हैसियत बढती गयी और वह दुनिया के सबसे अमीर लोगों में गिने जाते हैं।- एजेंसी

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.