म्यूचुअल फंड कंपनियों की प्रबंधन अधीन परिसंपत्तियां सितंबर अंत तक 12.5 प्रतिशत घटीं

Samachar Jagat | Tuesday, 09 Oct 2018 11:28:28 AM
Assets under management of mutual fund companies fell by 12.5 percent by the end of September

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। म्यूचुअल फंड कंपनियों के प्रबंधन अधीन परिसंपत्तियां सितंबर अंत तक 12.5 प्रतिशत घटकर 22 लाख करोड़ रुपए रह गई। इसकी अहम वजह लिक्विड फंड और आय योजनाओं से भारी मात्रा में निकासी होना है। हालांकि, इस दौरान इक्विटी और इक्विटी से जुड़ी बचत योजनाओं में पूंजी प्रवाह बढ़ा है। म्यूचुअल फंड कंपनियों के संगठन एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया ( एएमएफआई ) के आंकड़ों के अनुसार क्षेत्र की 41 सक्रिय कंपनियों की प्रबंधनाधीन परिसंपत्तियां सितंबर अंत तक 22.06 लाख करोड़ रुपए रह गईं।


रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति द्वारा नीतिगत दरों को यथावत रखने का उद्योग जगत ने किया स्वागत

जबकि अगस्त अंत तक यह आंकड़ा 25.20 लाख करोड़ रुपए था। मासिक आधार पर प्रबंधन अधीन परिसंपत्तियों में आयी इस कमी की मुख्य वजह म्यूचुअल फंड योजनाओं से 2.3 लाख करोड़ रुपए की निकासी होना है। इसमें 2.11 लाख करोड़ रुपए लिक्विड फंड से निकाले गए।

सरकारी तेल कंपनियों के परिचालन लाभ में 6,500 करोड़ रुपये की कमी ला सकेत हैं सरकारी उपाय: मूडीज

इसके अलावा निश्चित आय देने वाले ऋण म्यूचुअल फंड से 32,504 करोड़ रुपए की निकासी हुई। स्वर्ण एक्सचेंज ट्रेड फंड से भी 33 करोड़ रुपए की निकासी हुई है। हालांकि, इसी अवधि में इक्वटी और इक्विटी से जुड़ी बचत जमा योजनाओं में 11,250 करोड़ रुपए का निवेश आया है। जबकि बैलेंस्ड फंड योजनाओं में भी 731 करोड़ रुपए का निवेश आया है। -एजेंसी

मनुष्यों को आदिमानव से मिली हेपेटाइटिस और इन्फ्लूएंजा जैसी वायरल बीमारियों से लड़ने की क्षमता

अगर आप भी करते हैं कांटेक्ट लेंस का इस्तेमाल तो संक्रमण से बचने के लिए इन बातों का रखें ध्यान Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.