सीआईएल ने नाभा पावर के आरोप का किया खंडन

Samachar Jagat | Saturday, 09 Jun 2018 04:03:46 PM
CIL refuses Nabha Power's allegation

कोलकाता। कोल इंडिया लिमिटेड (सीआईएल) ने नाभा पावर के उन आरोपों का खंडन किया है कि कोयले की कमी के चलते उसे अपने राजपुरा संयंत्र को बंद करना पड़ा है। एलएंडटी समूह की कंपनी नाभा पावर का राजपुरा में 750 मेगावाट क्षमता का कारखाना है। कंपनी ने आरोप लगाया कि सीआईएल से पर्याप्त मात्रा में कोयला आपूर्ति नहीं होने के कारण उसे तीन जून को इस कारखाने को बंद करना पड़ा।

प्रदेश के प्रत्येक मजरे-टोले का पूर्ण विद्युतीकरण किया जाएगा: शिवराज

सीआईएल के एक अधिकारी ने कहा कि कारखाने में बंदी के लिए कोयले में कमी का आरोप लगाने के बजाय नाभा पावर को आवंटित कोयले को उठाने व उसे अपने कारखाने तक पहुंचाने की तैयारी करनी चाहिए।

वैश्विक संकेतों, घरेलू खरीद से सोना 32 हजार रुपए के पार

सीआईएल के अधिकारी के अनुसार नाभा पावर के इस कारखाने का यह संकट कंपनी द्वारा अपनी कोयला खरीद योजनाओं को सही ढंग से तैयार नहीं किए जाने के कारण हुआ है।- एजेंसी

दिवाला संहिता में संशोधन से धन लेकर रातों-रात फरार होने वाली रियल एस्टेट कंपनियों का होगा सफाया: जेटली

लगातार ग्यारहवें दिन घटे पेट्रोल और डीजल के दाम

पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देने के लिए एमटीडीसी, एयरबीएनबी में हुआ समझौता



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.