डेबिट कार्ड से लेनदेन को बढ़ाने के लिए नई योजना पेश कर सकता है रिजर्व बैंक

Samachar Jagat | Wednesday, 06 Dec 2017 06:41:53 PM
Debt card can introduce new plan to increase transaction with RBI

मुंबई। केंद्रीय बैंक ने यहां मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) के प्रस्ताव के साथ इस बारे में विकासात्मक व नियामकीय नीतियों पर बयान जारी किया है। इसमें कहा गया है कि हाल ही में प्वाइंट आफ सेल (पीओएस) पर डेबिट कार्ड के लिए भुगतान में काफी बढोतरी देखने को मिली है।

टाटा मोटर्स की टिगोर ने बाजार में दी इलेक्ट्रिक संस्करण में दस्तक

भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा कि उसने डेबिट कार्ड से लेनदेन पर शुल्कों को युक्तिसंगत बनाने का फैसला किया है ताकि डिजिटल भुगतान को और प्रोत्साहित किया जा सके

इसमें कहा गया है, मर्चेंट के विस्तृत नेटवर्क पर सामान व सेवाओं की खरीद के लिए डेबिट कार्ड से भुगतान को और बल देने के उद्देश्य से मर्चेंट डिस्काउंट रेट (एमडीआर) के लिए रूपरेखा को युक्तिसंगत बनाने का फैसला किया गया है। एमडीआर डेबिट कार्ड के जरिए लेनदेन पर मर्चेंट की श्रेणी के आधार पर लागू होता है।

एमडीआर कोई बैंक डेबिट व क्रेडिट कार्ड सेवाएं उपलब्ध करवाने के लिए मर्चेंट यानी व्यापारिक इकाई पर लगाता है।

RBI की मौद्रिक समीक्षा के बाद सेंसेक्स 205 अंक टूटा

इस बीच केंद्रीय बैंक ने भारतीय बैंकों की विदेशी शाखाओं व अनुषंगियों को एएए श्रेणी वाली कंपनियों के साथ साथ नवरत्न व महारत्न पीएसयू कंपनियों की बाह्य वाणिज्यिक उधारियों ईसीबी के पुनर्वित्तपोषण की अनुमति देने का फैसला किया है।

केंद्रीय बैंक की एक मसौदा रिपोर्ट  में मर्चेंट कारोबार के आधार पर एमडीआर के पुनर्गठन करने का सुझाव दिया गया था। फिलहाल सौदे के मूल्य के आधार पर स्लैब दर है।

इंटेक्स और एयरटेल मिलकर 4जी स्मार्टफोन पेश करेगी

बयान के अनुसार संशोधित एमडीआर का उद्देश्य डेबिट कार्डो  का इस्तेमाल बढ़ाना तथा इसमें शामिल इकाइयों के कारोबार के स्वास्थ्य को भी सुनिश्चित करने के लक्ष्य को हासिल करना है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.