सामान्य करदाताओं के अनुचित आकलन पर अंकुश लगाए विभाग, गड़बड़ी करने वाले अधिकारियों पर हो कार्रवाई

Samachar Jagat | Monday, 09 Jul 2018 12:25:13 PM
Department of Inquiry on Inappropriate Assessment of General Taxpayers

नई दिल्ली। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने आयकर विभाग को सख्त निर्देश दिया है कि वह सामान्य करदाताओं के खिलाफ होने वाले कठोर आकलन पर रोक लगाए। साथ ही इस तरह के अतार्किक आदेश देने वाले या इन निर्देशों का उल्लंघन करने वाले अधिकारियों का तबादला करे या उन पर कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए। 

वार्षिक रिटर्न फार्म पर 21 जुलाई को विचार करेगी जीएसटी परिषद

सीबीडीटी चेयरमैन सुशील चंद्र ने आयकर विभाग के सभी क्षेत्रीय प्रमुखों को एक पत्र लिखकर यह निर्देश दिए हैं। पत्र में इस संबंध में 2015 में शुरु किए गए अभियान की असफलता पर चिंता व्यक्त की गई है जिसका मकसद करदाताओं की इस तरह के आकलन से जुड़ी शिकायतों का निवारण करना है। सीबीडीटी आयकर विभाग के लिए नीतियां बनाने वाला सर्वोच्च निकाय है। 

बोर्ड ने चार साल पहले इस मामले में हर क्षेत्र के लिए प्रधान मुख्य आयुक्त की अध्यक्षता में एक स्थानीय समिति बनाने का प्रस्ताव किया था जिसका मकसद कर आकलन की कठोर गतिविधियों से जुड़ी करदाताओं की शिकायतों का तेजी से निवारण करना था। यह निर्णय मोदी सरकार की सामान्य करदाता के कर निर्धारण में कठोरता के साथ आकलन करने को खत्म करने के प्रयासों का हिस्सा है।

वित्तीय घोटालों की जांच में बैंकिंग, कर विशेषज्ञों की सेवाएं लेगी CBI

कर विभाग ने इस संबंध में कम से कम 10 आकलन निर्धारण अधिकारियों के खिलाफ कारवाई की है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इस मामले में अभी काफी कुछ नहीं हुआ है। कठोर धरातल पर करदाताओं के अनुचित आकलन में बिना गंभीरता के अतिरिक्त आय को जोड़ दिया जाता है, दिमाग पर ज्यादा जोर नहीं दिया जाता और मामले को तय करने में गंभीरता नहीं दिखाई जाती है। 

दूरसंचार उद्योग ने ट्राई के सार्वजनिक Wi-Fi मॉडल का किया विरोध, राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए बताया खतरा

'किसानों के लिए एक और खुशखबरी देने वाली है सरकार'



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.