किसानों को मिला उपहार, दो लाख तक का कृषि ऋण माफ कर दिया

Samachar Jagat | Thursday, 05 Jul 2018 03:12:38 PM
Gift to farmers,Waived agricultural loan up to two lakh

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

बेंगलुरु। कर्नाटक सरकार ने अपने घोषणा पत्र को अमल में लाते हुए किसानों के लिए दो लाख रुपए तक का कृषि ऋण माफ कर दिया है। किसानों को बड़ी राहत देते हुए कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने गुरुवार को कांग्रेस -जद (एस) गठबंधन सरकार के पहले बजट में 34,000 करोड़ रुपए की कृषि ऋण माफी योजना की घोषणा की।

विधानसभा में बजट प्रस्ताव पेश करते हुए कुमारस्वामी ने कहा कि उन्होंने ऋण की राशि को दो लाख रुपए तक सीमित किया है क्योंकि इससे ऊंचे मूल्य के फसल ऋण को माफ करना ‘सही’ नहीं होगा।

अब फिक्स्ड लाइन ब्राडबैंड सेवा शुरू करेगी रिलायंस जियो

कुमारस्वामी के वित्त मंत्रालय का भी प्रभार है। उन्होंने कहा है कि फसल ऋण माफी योजना से किसानों को 34,000 करोड़ रुपए का लाभ मिलेगा।  जद (एस) ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में किसानों का कर्ज माफ करने का वादा किया था।

कृषि ऋण माफी योजना की वजह से राज्य सरकार पर पडऩे वाले भारी बोझ के मद्देनजर कुमारस्वामी ने पेट्रोल पर कर की दर में 1.14 रुपए प्रति लीटर और डीजल पर 1.12 रुपए प्रति लीटर की वृद्धि का भी प्रस्ताव किया है।

उन्होंने देसी शराब सभी 18 स्लैब पर आबकारी शुल्क में चार प्रतिशत वृद्धि का भी प्रस्ताव किया है।  मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने पूरी तरह अपनी सरकार बनने पर कृषि ऋण को 24 घंटे में माफ करने का वादा किया था।

पेट्रोल 16 पैसे, डीजल 12 पैसे लीटर महंगा

उन्होंने कहा है कि हालांकि, राज्य के लोगों ने किसी एक पार्टी को बहुमत नहीं दिया है, लेकिन मुझे गठबंधन सरकार बनाने के लिए अच्छा अवसर मिला और साथ ही गठबंधन में मुख्यमंत्री के रूप में काम करने का मौका मिला।  

उन्होंने कहा कि पहले चरण में उन्होंने 31 दिसंबर, 2017 तक सभी चूक वाले फसल ऋणों को माफ करने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके अलावा समय पर कर्ज चुकाने वाले किसानों के खातों में ऋण की राशि या 25,000 रुपए , जो भी कम हो, डाले जाएंगे। इससे समय पर ऋण चुकाने वाले किसानों को फायदा होगा।
 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...


Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.