बंदरगाह, हवाईअड्डों जैसी सार्वजनिक सुविधाओं का विनिवेश करे सरकार: सीआईआई

Samachar Jagat | Monday, 10 Jun 2019 09:27:16 AM
Government disinvestment of public facilities like port, airports: CII

नई दिल्ली। उद्योग मंडल सीआईआई ने कहा कि सरकार को सार्वजनिक क्षेत्र के कुछ बंदरगाह और हवाईअड्डे जैसी कुछ अच्छी तरह से चल रही सुविधाओं का विनिवेश करना चाहिए ताकि निजी क्षेत्र की कंपनियों को ऐसी कम जोखिम वाली सम्पत्तियों में निवेश का अवसर उपलब्ध कराया जा सके। 

सीआईआई ने रविवार को एक बयान में कहा, ‘‘सरकार को अपने नियंत्रण में व्यावहारिक तरीके सये चल रहे बंदरगाह, हवाईअड्डे, बिजली संयंत्र, राजमार्ग खंड आदि को बेच देना चाहिये। इससे निजी क्षेत्र को निवेश करने के लिये कम जोखिम वाले अवसर मिलेंगे।’’

संगठन ने कहा कि कम जोखिम परियोजनाओं को ऋणदाताओं के लिये आकर्षक बनाता है। साथ ही अंतरराष्ट्रीय कोष तथा पेंशन कोष भी इस तरह की परियोजनाओं के लिये देश में दीर्घकालिक निवेश करने को तैयार हैं। उसने कहा, ‘‘इससे नये निवेश के लिये सरकारी पूंजी बचेगी।’’

सीआईआई ने कहा कि यह तरीका हर तरह से फायदेमंद होगा। इससे निजी निवेश में भी तेजी लौटेगी। गौरतलब है कि इस समय बैंकों की स्थिति ठीक नहीं होने तथा उपभोग मांग कमजोर होने के साथ बुनियादी ढांचा क्षेत्र की कई परियोजनाओं के अटकने से बैंक और निवेशक कोई बड़ा जोखिम लेने से बच रहे है।

यही कारण है कि इस समय निवेश का स्तर 2018-19 में प्रचलित बाजार कीमत पर सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 31 प्रतिशत पर आ गया थो जो मार्च 2011-12 तके 39.6 प्रतिशत था। -(एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.