IDBI बैंक में LIC की हिस्सेदारी घटाकर 15 प्रतिशत करने को लेकर इरडा समय सीमा तय करेगा

Samachar Jagat | Friday, 07 Sep 2018 04:47:35 PM
IDBI will fix LD stake in the bank by 15% to reduce the IRDA time limit

मुंबई। बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (इरडा) ने शुक्रवार को कहा कि वह आईडीबीआई बैंक में एलआईसी की 51 प्रतिशत हिस्सेदारी को घटाकर 15 प्रतिशत पर लाने के लिए समयसीमा नियत करेगा। हालांकि, उसने कहा कि फंसे कर्ज की समस्या से जूझ रहे आईडीबीआई बैंक में 51 प्रतिशत हिस्सेदारी के अधिग्रहण के बाद एलआईसी की कारोबार योजना पर गौर करने के बाद ही समयसीमा तय की जाएगी।

भारतीय सेना को ब्रॉड बैंड और मोबाइल सेवाएं उपलब्ध कराएगी बीएसएनएल 

एलआईसी की फिलहाल आईडीबीआई बैंक में 7.98 प्रतिशत हिस्सेदारी है और वह हिस्सेदारी बढ़ाकर 51 प्रतिशत करने की प्रक्रिया में है। इससे बीमा कंपनी को बैंक क्षेत्र में प्रवेश में मदद मिलेगी।

बिना परमिट के दौड़ सकेंगे इलेक्ट्रिक, वैकल्पिक ईंधन से चलने वाले वाहन: गडकरी 

बीमा नियामक ने जून में एलआईसी को आईडीबीआई बैंक में हिस्सेदारी बढ़ाकर 51 प्रतिशत करने की अनुमति दे दी थी। सरकार ने एलआईसी को हिस्सेदारी बढ़ाने के प्रस्ताव को पिछले महीने मंजूरी दे दी। सरकार की फिलहाल आईडीबीआई बैंक में 85.96 प्रतिशत हिस्सेदारी है। 

सातवें आसमान पर पहुंच सकते है पेट्रोल और डीजल के दाम, आज फिर हुई बढ़ोतरी 

उद्योग मंडल एसोचैम द्वारा आयोजित बीमा सम्मेलन में इरडा के चेयरमैन एस सी खुंतिया ने संवाददाताओं से कहा, ''हम आईडीबीआई बैंक में 51 प्रतिशत हिस्सेदारी के अधिग्रहण के बाद उनकी (एलआईसी) की व्यापार योजना को देखेंगे। उसके बाद आईडीबीआई बैंक में हिस्सेदारी घटाने (15 प्रतिशत पर) को लेकर विचार किया जाएगा।’’

बीमा कंपनियों के लिये किसी सूचीबद्ध इकाई में हिस्सेदारी रखने की स्वीकार्य सीमा 15 प्रतिशत है। उन्होंने कहा, ''एलआईसी को बैंक में हिस्सेदारी कम करने के साथ पालिसीधारकों के हितों की रक्षा करना होगा।’’ उल्लेखनीय है कि मंगलवार को एलआईसी निदेशक मंडल ने आईडीबीआई बैंक में हिस्सेदारी बढ़ाकर 51 प्रतिशत करने के तौर-तरीकों के बारे में निर्णय किया।

जियो के 2 वर्ष में इंटरनेट डाटा की दरें उतरी जमीन पर, मुफ्त बातचीत बनी हकीकत 


 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.