सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से बैंक धोखाधड़ी मामलों में हुई बढ़ोतरी

Samachar Jagat | Wednesday, 05 Jun 2019 03:08:36 PM
Increase in bank fraud cases by steps taken by the government

नई दिल्ली। बैंक धोखाधड़ी के मामलों में वर्ष 2018- 19 में बढ़ोतरी को लेकर हो रही आलोचना के बीच सरकार ने मंगलवार देर रात स्पष्ट किया कि हाल के वर्षों में उसके द्बारा उठाए गए कदमों से इसमें वृद्धि हुई है। वित्त मंत्रालय ने यहां जारी बयान में कहा कि जो आंकड़े बताए गए हैं वे इस रिपोर्टिंग वर्ष के हैं लेकिन बैंक धोखाधड़ी के मामले इस वर्ष के नहीं हैं। उल्लेखनीय है कि रिजर्व बैंक ने वर्ष 2018-19 के बैंक धोखाधड़ी के आंकड़े जारी किए हैं जिसमें बताया गया है कि इस वित्त वर्ष में 71500 करोड रुपए की बैंक धोखाधड़ी हुई हैं। 

Rawat Public School

अगले कुछ सप्ताह में काम करने लगेगा दूरसंचार नियामक का नेटवर्क कवरेज मानचित्र : ट्राई

इस आंकड़े के आने के बाद सरकार की कड़ी आलोचना हो रही है। इसके मद्देनजर यहां जारी बयान में सरकार ने कहा है कि हाल के वर्षों में बैंकिंग क्षेत्रों में किए गए व्यापक सुधार से बैंक धोखाधड़ी जैसे मामलों के बारे में थोड़ी जानकारी मिलने लगी है जिससे इस तरह के मामलों में तेजी आती दिखाई दे रही है हालांकि यह मामले पुराने हैं।

प्राकृतिक गैस से तय नहीं होगी निकट अवधि में ओएनजीसी की लाभदायता : मूडीज

सरकार ने कहा है कि जानबूझकर ऋण नहीं चुकाने वालों के विरुद्ध की गई त्वरित कार्रवाई के बाद सरकारी बैंकों ने 2881 लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज कराए हैं। इसके साथ ही 50000 करोड़ रुपए से अधिक के ऋण लेने वाली कंपनियों के प्रवर्तको और निवेशकों के पासपोर्ट की सर्टिफाइड कॉपी लेने के लिए कहा गया है। -एजेंसी

विश्वबैंक ने 2019-20 के लिये भारत की आर्थिक वृद्धि दर के पूर्वानुमान को 7.50 प्रतिशत बनाये रखा



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.