लातविया से भी कम है भारत का सामाजिक क्षेत्र पर व्यय: अध्ययन

Samachar Jagat | Thursday, 12 Apr 2018 12:21:27 PM
India expenditure on social sector is less than Latvia: study

मुंबई। भारत का सामाजिक क्षेत्र पर व्यय लातविया और आइसलैंड समेत अपने समकक्ष देशों के मुकाबले काफी कम है। रिजर्व बैंक के मासिक बुलेटिन में प्रकाशित अध्ययन में यह कहा गया है। यह निष्कर्ष भारत समेत 17 देशों के जीडीपी अनुपात के रूप में 2016 में सामाजिक क्षेत्र पर किए गए व्यय के अध्ययन पर आधारित है। केंद्रीय बजट 2018-19 'एक आकलन ’ शीर्षक से अध्ययन ताजा मासिक बुलेटिन में प्रकाशित हुआ है। 

टाटा संस बनाएगा टाटा एयरोस्पेस एंड डिफेंस इकाई

रिजर्व बैंक ने हालांकि कहा है कि अध्ययन में कही गयी बातें लेखकों के निजी विचार हैं और संस्थान से यह संबंधित नहीं है। रिजर्व बैंक के आर्थिक और नीति शोध विभाग के एक अधिकारी के दिशानिर्देश में अध्ययन दो शोध अधिकारियों ने तैयार किया है। इसमें कहा गया है कि आयुष्मान भारत कार्यक्रम के तहत राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना शिक्षा प्रणाली में सुधार के साथ स्वास्थ्य एवं शिक्षा पर व्यय 2018-19 के बजट में 4.6 प्रतिशत बढ़ा है। अध्ययन के मुताबिक , जीडीपी के संदर्भ में सामाजिक क्षेत्र पर व्यय समकक्ष देशों के मुकाबले काफी कम है।

डिजिटल बदलाव से 2021 तक देश के जीडीपी में 154 अरब डॉलर जुड़ेंगे : माइक्रोसॉफ्ट

इसमें मुख्य रूप से स्वास्थ्य एवं शिक्षा शामिल हैं। जिन अन्य 16 देशों के आंकड़ों का विश्लेषण किया गया है, उसमें कोरिया, लातविया, आइसलैंड, इजराइल, आयरलैंड, एस्तोनिया, स्लोवाक गणराज्य, चेक गणराज्य, पोलैंड, हंगरी, स्लोवेनिया, पुर्तगाल, स्पेन, यूनान, इटली तथा बेल्जियम शामिल हैं। अध्ययन के अनुसार भारत का सामाजिक क्षेत्र पर व्यय 2016 में जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) का 7.5 प्रतिशत था जबकि बेल्जियम में यह 29 प्रतिशत, आइसलैंड में 15.2 प्रतिशत, लातविया में 14.5 प्रतिशत तथा कोरिया में 10.4 प्रतिशत था। -एजेंसी 

अब इस ब्रांड का प्रचार करेंगे ऋषि कपूर



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.