भारत के लिए प्रौद्योगिकी क्रांति की अगली कतार में आने का मौका है 5जी: सिन्हा

Samachar Jagat | Wednesday, 04 Jul 2018 11:50:19 AM
India has the chance to come in the next line of technology revolution: 5G: Sinha

नई दिल्ली। दूरसंचार मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि भावी 5जी प्रौद्योगिकी से भारत के लिए प्रौद्योगिकी विकास में अगली कतार में आने का मौका है और देश इसकी अनदेखी को जोखिम नहीं उठा सकता। सिन्हा ने देश की पहली 5जी परीक्षण प्रयोगशाला की शुरुआत के बाद यह बात कही।

नरम वैश्विक संकेतों से शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स-निफ्टी लुढक़े

उन्होंने कहा कि वे बार बार यह दोहराना चाहेंगे कि भले ही हम 3जी व 4जी के मामले में पीछे रह गये लेकिन ' हम 5 जी के मामले में चूक वहन नहीं कर सकते। 5जी भारत के लिए प्रौद्योगिकी विकास में पिछली कतार से पहली कतार में आने का बड़ा मौका है।

रुपए की विनिमय दर में गिरावट चिंता का कारण नहीं: नीति उपाध्यक्ष

स्वीडन की दूरसंचार उपकरण कंपनी एरिक्सन ने यह 5जी उत्कृष्टता केंद्र व नवोन्मेषी प्रयोगशाला आईआईटी दिल्ली के साथ मिलकर स्थापित की है। सरकार ने 5जी समाधानों के परीक्षणा के लिए इस प्रयोगशाला को 100 मेगाहटर्ज स्पेक्ट्रम आवंटित किया है। मंत्री ने कहा कि देश में पहली 5जी प्रयोगशाला स्थापित किया जाना इस प्रौद्योगिकी में भारत को वैश्विक स्तर पर अग्रणी रखने के सरकार के दृष्टिकोण के अनुरूप ही है।

दूरसंचार विभाग के सांविधिक प्रक्रिया को पूरा करने के बाद आइडिया-वोडाफोन विलय को मंजूरी: सिन्हा

उन्होंने कहा कि बीते चार साल में देश में दूरसंचार प्रौद्योगिकी का तेजी से प्रचार प्रसार हुआ है। दूरसंचार घनत्व जून 2014 में 75% था जो मार्च 2018 में बढ़कर 93% हो गया। सरकार ने दूरसंचार बुनियादी ढांचे व सेवाओं पर खर्च को 2०14-18 में छह गुना बढ़ाकर 66,000 करोड़ रुपए कर दिया जो 2009-14 में 9,900 करोड़ रुपए था।

पाकिस्तान में ईधन महंगा, पेट्रोल 100 रुपए, डीजल 119 रुपए प्रति लीटर

ट्राई के चेयरमैन आर एस शर्मा ने कहा कि भारत को 5 जी प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल अपनी स्थानीय समस्याओं के समाधान के लिए करना चाहिए। एरिक्सन के सीईओ बोर्ज एखलोम ने कहा कि 5 जी प्रौद्योगिकी का पहली वाणिज्यिक पेशकश इस साल हो सकती है। इस प्रौद्योगिकी से मोबाइल फोन पर इंटरनेट की स्पीड कई गुना बढ़ेगी।

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.