बैंकों को एनबीएफसी के जिरये प्राथमिक क्षेत्रों को ऋण देने के निर्देश

Samachar Jagat | Wednesday, 07 Aug 2019 02:12:05 PM
Instructions to banks for lending to priority areas through NBFCs

मुंबई। रिजर्व बैंक ने गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) पर बने वित्तीय दबाव को कम करने और उसके कारोबार में तेजी लाने के उद्देश्य से बैंकों को एनबीएफसी के माध्यम से प्राथमिक क्षेत्रों को ऋण देने के निर्देश देते हुये कई क्षेत्रों को शामिल किया है।

रिजर्व बैंक ने मौद्रिक नीति समिति की चालू वित्त वर्ष की तीसरी द्विमासिक बैठक के बाद जारी एक बयान में कहा कि कुछ प्राथमिक क्षेत्रों के लिए ऋण प्रवाह में बढ़ोतरी कर निर्यात और रोजगार सृजन के जरिये आर्थिक गतिविधियों में भागीदारी बढ़ाने के उद्देश्य तथा उन क्षेत्रों में एनबीएफसी की महती भूमिका को देखते हुये कई क्षेत्रों को प्राथमिक क्षेत्र में शामिल करने का निर्णय लिया गया है।

उसने कहा कि बैंकों को पंजीकृत एनबीएफसी के माध्यम से 10 लाख रुपये के कृषि ऋण, छोटे उद्यमियों को 20 लाख रुपये तक के ऋण और प्रति ग्राहक 20 लाख रुपये तक के आवास ऋण को प्राथमिक क्षेत्र में शामिल किया गया है। अब तक 10 लाख रुपये तक के आवास ऋण इस श्रेणी में शामिल था। इस संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश चालू महीने के अंत तक जारी किये जायेंगे।

केन्द्रीय बैंक ने कहा कि एक अप्रैल 2019 से बड़े एनबीएफसी में निवेश को बैंकों की टियर-1 पूंजी के 15 प्रतिशत पर सीमित किया गया था जिसे अब बढ़ाकर 20 प्रतिशत करने का निर्णय लिया गया है। -(एजेंसी)
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.