जेट एयरवेज की उड़ानें बंद होने से अप्रैल में आईओसी को लगा झटका

Samachar Jagat | Saturday, 18 May 2019 08:55:54 AM
IOC shocks in April due to shutdown of Jet Airways flights

नयी दिल्ली। नागरिक उडड्यन क्षेत्र में चल रही उठापटक का असर पेट्रोलियम कंपनियों को भी झेलना पड़ रहा है। जेट एयरवेज के धराशायी होने से सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनी इंडियन आयल कार्पोरेशन की विमान ईंधन की मांग अप्रैल महीने में घट गई। हालांकि, बाद में इसमें सुधार आ गया और अब यह पुराने स्तर पर लौट आई है।

इंडियन आयल कार्पोरेशन (आईओसी) के निदशेक (विपणन) गुरमीत सिंह ने शुक्रवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि जेट एयरवेज को 85 प्रतिशत विमान ईंधन की आपूर्ति इंडियन आयल करता रहा है। अप्रैल माह में जेट एयरवेज की उड़ानें एक- एक कर बंद होने की वजह से इंडियन आयल के कारोबार पर भी असर पड़ा। अप्रैल 2019 में आईओसी की विमान ईंधन मांग में करीब 10 हजार टन की कमी आई। 

उल्लेखनीय है कि कर्ज बोझ तले दबी निजी क्षेत्र की विमानन कंपनी जेट एयरवेज ने 17 अप्रैल को अपनी उड़ाने अस्थाई तौर पर बंद कर दीं। यह पिछले 25 साल से सेवा में थी और इसके पर 100 से अधिक विमानों का बेड़ा था। 

गुरमीत सिंह ने कहा, ‘‘जेट एयरवेज को 75,000 टन मासिक विमान ईंधन की आपूर्ति की जाती थी। विमानन कंपनी को उसकी कुल मांग का 85 प्रतिशत आईओसी करती रही है। लेकिन अप्रैल माह में एक एक कर उसकी उड़ानें बंद होने से आईओसी की विमान ईंधन आपूर्ति करीब दस हजार टन कम रही। हालांकि, इसके बाद दूसरी विमानन कंपनियों की उड़ानें बढऩे से इसकी भरपाई हो गई।

जेट एयरवेज पर ईंधन आपूर्ति के बकाये के बारे में पूछे जाने पर गुरमीत सिंह ने कहा कि कंपनी पर इंडियन आयल का कोई बकाया नहीं है। करीब 1,050 करोड़ रुपये का बकाया रह गया था जिसे बैंक गारंटी भुनाकर वसूल लिया गया है। 

उन्होंने बताया कि इंडियन आयल हर महीने करीब 4,00,000 टन विमान ईंधन की आपूर्ति करती है। घरेलू विमानन क्षेत्र में इंडियन आयल 68 प्रतिशत विमान ईंधन की आपूर्ति  करता है जबकि अंतरराष्ट्रीय विमानन क्षेत्र में उसकी 46 प्रतिशत के करीब बाजार हिस्सेदारी है। जेट एयरवेज के अलावा एयर इंडिया और दूसरी विमानन कंपनियों को भी आईओसी ‘एवियशन टरबाइन फ्यूल’ (एटीएफ) की आपूर्ति करती है। एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.