विस्तार पर 1.75 लाख करोड़ रुपए का निवेश करेगी आईओसी : चेयरमैन

Samachar Jagat | Sunday, 05 Aug 2018 02:04:09 PM
IOC to invest Rs 1.75 lakh crore on expansion: Chairman

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी पेट्रोलियम कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) की अपनी शोधन क्षमता को दोगुना करने, पेट्रोरसायन के उत्पादन को बढ़ाने, गैस कारोबार के विस्तार तथा नई पाइपलाइन बिछाने के लिए 1.75 लाख करोड़ रुपए का निवेश करने की योजना है। कंपनी के चेयरमैन संजीव सिंह ने यह जानकारी दी। कंपनी की योजना कच्चे तेल को पेट्रोल और डीजल जैसे ईंधनों में बदलने की अपनी क्षमता को 2030 तक 15 करोड़ टन सालाना करने की है। अभी यह क्षमता 8.07 करोड़ टन है। 

फिलहाल देश में कुल 23 तेल रिफाइनरियों में से 11 का स्वामित्व और परिचालन आईओसी के पास है। सिंह ने कंपनी की ताजा वार्षिक रिपोर्ट में कहा, देश की सबसे बड़ी रिफाइनरी कंपनी होने तथा ऊर्ज़ा के विविध पोर्टफोलियो में प्रमुख खिलाड़ी होने के नाते आईओसी खुद के तथा अधिग्रहण के जरिए विस्तार के सभी अवसरों पर ध्यान केंद्रित कर रही है। कंपनी कामकाज के एकीकरण रणनीतिक विविधीकरण के जरिए वृद्धि के अवसर तलाशेगी। इसके अलावा कंपनी मूल्यवर्धन वाले शोध क्षेत्रों पर भी ध्यान देगी। 

उन्होंने कहा कि इसी के तहत 32,000 करोड़ रुपए की परियोजनाएं क्रियान्वयन के विभिन्न चरणों में हैं। इसके अलावा 1.43 लाख करोड़ रुपए की और परियोजनाओं के क्रियान्वयन की योजना बनाई जा रही है। सिंह ने कहा कि शोधन क्षमता को 2030 तक दोगुना करने की योजना के तहत अनुषंगी चेन्नई पेट्रोलियम कॉरपोरेशन की नई रिफाइनरी तथा प्रस्तावित रत्नागिरी रिफाइनरी एंड पेट्रोकेमिकल्स लि. के अलावा अधिग्रहणों के जरिए विस्तार शामिल है। रत्नागिरी रिफाइनरी एंड पेट्रोकेमिकल्स दुनिया का सबसे बड़ा एकीकृत ग्रीनफील्ड रिफाइनरी एवं पेट्रोरसायन परिसर बना रही है। इसकी क्षमता छह करोड़ टन सालाना की होगी। -एजेंसी

अगर आप भी चाहते हैं कि आपका नया प्लॉट वास्तुदोष से मुक्त हो तो इन चीजों का रखें ध्यान

अगर चाहते हैं कि माता लक्ष्मी आप पर रहें मेहरबान तो इस तरह से अपनी झाडू का रखें ध्यान

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.