पूर्वोत्तर में 2020 तक 286 करोड़ रुपये निवेश करेगी आईओसी

Samachar Jagat | Wednesday, 29 Aug 2018 04:52:55 PM
IOC to invest Rs 286 crore in NE-2020

गुवाहाटी। सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) पूर्वोत्तर भारत में 2020 तक दो नये संयंत्र बनाने समेत एलपीजी सिभलडर भरने की क्षमता बढ़ाने पर 286 करोड़ रुपये निवेश करेगी। कंपनी 217.46 करोड़ रुपये की लागत से त्रिपुरा के अगरतला और मेघालय के बड़ापानी में दो नये संयंत्र बना रही है।

कंपनी के मुख्य महाप्रबंधक उत्तिय भट्टाचार्य ने कहा, ''मांग बढऩे के साथ ही हम पूर्वोत्तर में एलपीजी सिभलडर भरने की अपनी क्षमता बढ़ा रहे हैं। जहंा हम मौजूदा संयंत्रों की क्षमता बढ़ा रहे हैं, वहीं अधिक क्षेत्रों तक सेवा उपलब्ध कराने के लिए नयी इकाइयां भी बनायी जा रही हैं।" 

ईडी ने लक्जरी कारों और फ्लैट समेत उपेंद्र राय की 26.65 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क की

उन्होंने कहा कि पूर्वोत्तर भारत में कंपनी के पास अभी सिलिंडर भरने के 10 संयंत्र हैं और ये पूरी क्षमता के साथ कार्यरत हैं। उन्होंने कहा, ''दो नये संयंत्रों समेत छह इकाइयों में विस्तार कार्य चल रहा है। इस पूरी प्रक्रिया में हम अगस्त 2020 तक 286 करोड़ रुपये से अधिक निवेश करेंगे।  कंपनी अगरतला में संयंत्र बनाने के लिए 143.46 करोड़ रुपये निवेश कर रही है। इसकी सिलंडर भरने की क्षमता 60 हजार मीट्रिक टन प्रति वर्ष होगी। भट्टाचार्य ने कहा कि संयंत्र निर्माणाधीन है और इसके जून 2019 तक तैयार हो जाने का अनुमान है।

मंत्रिमंडल ने बीमा नियामक क्षेत्र में भारत और अमेरिका के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी दी

उन्होंने कहा, ''बड़ापानी संयंत्र अभी प्राथमिक चरण में है। इसकी क्षमता 30 हजार मीट्रिक टन प्रति वर्ष की होगी और इसमें 74 करोड़ रुपये की लागत आएगी। हम अभी पर्यावरणीय मंजूरी की प्रतीक्षा कर रहे हैं और इसके अगस्त 2020 तक तैयार होने का अनुमान है।" इन दो संयंत्रों के अलावा कंपनी सिलचर, बोंगईगांव और उत्तरी गुवाहाटी में पहले से स्थित संयंत्रों की क्षमता बढ़ा रही है।- एजेंसी

एयरटेल को डीटीएच इकाई में 15 प्रतिशत हिस्सेदारी वारबर्ग पिन्कस को बेचने के लिए सरकार की मंजूरी

BSNL की इंटरनेट टेलिफोन सर्विस Wings हुई शुरू, ग्राहकों को 1 साल तक फ्री में मिलेगी इंटरनेशनल कॉलिंग



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.