एयर इंडिया को 11,000 करोड़ रुपए का राहत पैकेज देने पर विचार कर रहा नागर विमानन मंत्रालय

Samachar Jagat | Wednesday, 08 Aug 2018 12:50:55 PM
Ministry of Civil Aviation considering 11,000-crore relief package for Air India

मुंबई। नागर विमानन मंत्रालय एयर इंडिया को 11,000 करोड़ रुपए का राहत पैकेज उपलब्ध कराने के लिए वित्त मंत्रालय के साथ विचार विमर्श कर रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक एयर इंडिया के निजीकरण में मिली विफलता के चलते मंत्रालय इस मामले में विचार कर रहा है।

नूयी ने कहा, परिवार मेरे लिए प्राथमिकता, राजनीति में शामिल होने की संभावना खारिज की

एयर इंडिया का वित्तीय संकट लगातार बना हुआ है। सूत्रों के मुताबिक नागर विमानन मंत्रालय एयर इंडिया को राहत पैकेज देने पर विचार कर रहा है ताकि विमानन कंपनी को उसकी ऊंची लागत के कार्यशील पूंजी कर्ज से राहत मिल सके। अभी यह प्रस्ताव शुरूआती चरण में है।

इस संबंध में नागर विमानन सचिव आरएन चौबे को भेजे गए सवालों का जवाब नहीं मिला है। वहीं एयर इंडिया प्रवक्ता ने कहा कि यह मामला नागर विमानन मंत्रालय के तहत आता है। हमें इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देनी चाहिए। सूत्रों के मुताबिक प्रस्ताव हालांकि अभी शुरुआती स्तर पर है, लेकिन इसके तहत एयर इंडिया को 11,000 करोड़ रुपए का पैकेज उपलब्ध कराया जाएगा।

15 अगस्त से शुरू हो रहा है GigaFiber का रजिस्ट्रेशन, Jio GigaTV पर वीडियो कॉल जैसी कई सुविधाएं होगी उपलब्ध

एक सूत्र ने कहा कि एयर इंडिया के खाते को साफ सुथरा बनाने से एयरलाइन को निवेशकों के लिए आकर्षक बनाया जा सकेगा। सरकार जब कभी भी इसकी रणनीतिक बिक्री के लिए आगे आएगी तब यह निवेशकों के लिए आकर्षक होगी। एयर इंडिया को पिछली संप्रग सरकार ने 2012 में राहत पैकेज दिया था।

उसी के बल पर यह अभी तक उड़ान भर रही है। मार्च 2017 की समाप्ति पर इस राष्ट्रीय विमानन कंपनी पर 48,000 करोड़ रुपए का ऋण  बोझ था। गत माह ही सरकार ने एयरलाइन में 980 करोड़ रुपए की इक्विटी पूंजी डालने संबंधी अनुपूरक अनुदान मांगों को संसद की मंजूरी के लिए पेश किया। 

हीरो Dawn 125cc इंजन के साथ भारत में हो सकती है लॉन्च, कीमत एकदम बजट में



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.