श्वेत क्रांति लाने में सबसे अधिक सहयोग करने वाले किसानों को दिया जाएगा नन्द बाबा पुरस्कार

Samachar Jagat | Monday, 09 Jul 2018 04:05:13 PM
Nand Baba award will be given to farmers for bringing white revolution

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

मथुरा। उत्तर प्रदेश सरकार श्वेत क्रांति लाने में सबसे अधिक सहयोग करने वाले किसानों को नन्द बाबा पुरस्कार से सम्मानित करेगी। प्रदेश के वरिष्ठ मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी ने रविवार को बताया कि राज्य सरकार ने श्वेत क्रांति लाने में सबसे अधिक सहयोग करने वाले किसानों के लिए नन्द बाबा पुरस्कार शुरू करने का निश्चय किया है। उन्होने कहा कि सरकार ने गौ पालन को प्रोत्साहित करने के लिए किसानों को पुरस्कृत किए जाने की योजना बनाई है। इस योजना के तहत जो किसान सबसे अधिक गाय का दूध पराग डेयरी को उपलब्ध कराएगा उसे नन्द बाबा पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। चौधरी ने कहा कि कन्नौज की डेयरी इसी माह से चालू हो जाएगी तथा इस डेयरी में केवल गाय के दूध को ही प्रोसेस किया जाएगा।

सामान्य करदाताओं के अनुचित आकलन पर अंकुश लगाए विभाग, गड़बड़ी करने वाले अधिकारियों पर हो कार्रवाई

उन्होने बताया कि 11 जुलाई को लखनऊ में आयोजित एक विशेष समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ किसानों को गोकुल पुरस्कार देकर सम्मानित करेंगे। पराग डेयरी को प्रदेश में सबसे अधिक दूध देने वाले किसान को दो लाख का गोकुल पुरस्कार दिया जाएगा। दूसरे नंबर पर अधिक दूध देने वाले किसान को एक लाख इक्यावन हजार का पुरस्कार दिया जाएगा। इस समारोह में अधिक दूध उत्पादन के लिए मुख्यमंत्री मंडलवार भी पुरस्कार देंगे। पराग डेयरी को मंडल में सबसे अधिक दूध देने वाले किसान को 51 हजार का पुरस्कार दिया जाएगा।

दूरसंचार उद्योग ने ट्राई के सार्वजनिक Wi-Fi मॉडल का किया विरोध, राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए बताया खतरा

आपको बता दें कि देश में सामाजिक-आर्थिक परिवर्तन के एक महत्वपूर्ण घटक के रूप में श्वेत क्रांति को मान्यता दी गई है। यह पशुपालन से जुड़ा एक बहुत लोकप्रिय उद्यम है जिसके अंतर्गत दुग्ध उत्पादन, उसकी प्रोसेसिंग और खुदरा बिक्री के लिए किए जाने वाले कार्य आते हैं। 

( इस खबर में कुछ अंश एजेंसी से लिया गया है। )

 

 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...


Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.