नवी मुंबई हवाईअड्डे के लिए वर्ष 2019 तक के लक्ष्य को पूरा करना कठिन

Samachar Jagat | Friday, 11 May 2018 02:42:12 PM
navi Mumbai airport is difficult to meet the target of 2019

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

मुंबई। नागर विमानन मंत्रालय ने कहा कि बहुप्रतीक्षित नवी मुंबई हवाई अड्डे पर परिचालन शुरू करने के लिए वर्ष 2019 तक की समयसीमा को पूरा करना कठिन है। इस बात को संज्ञान में रखा जा सकता है कि राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस बार-बार कहते रहे हैं कि 16,700 करोड़ रुपए के नवी मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पहले चरण का काम 2019 के अंत तक पूरा हो जाएगा। नागर विमानन सचिव आर एन चौबे ने छठे अमेरिका - भारत विमानन शिखर सम्मेलन में कहा, मुझे यह बताते हुए खुशी है कि काम निर्धारित कार्यक्रम के अनुरूप जारी है। (वर्ष 2019 की समयसीमा के भीतर काम परा करने की जिम्मेदारी को पूरा करना) ऐसा करना हमारे लिए मुश्किल जरूर है लेकिन हम कोशिश करेंगे। हालांकि, यह कठिन काम है। 

फ्लिपकार्ट के सीईओ ने अपने विक्रेताओं को किया आश्वस्त

गौरतलब है कि राज्य विधानसभा चुनाव अगले साल अक्टूबर में होना है। चौबे ने कहा कि उन्होंने पिछले महीने परियोजना की प्रगति के बारे में राज्य सरकार और डेवलपर जीवीके समूह सहित सभी अंशधारकों के साथ व्यापक चर्चा की थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फरवरी में हवाई अड्डे के लिए आधारशिला रखी थी, जो मुंबई में एकल रनवे और स्लॉट - की कमी वाले छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे को थोड़ी राहत प्रदान करेगा। 

इस नए हवाईअड्डे को 3,000 करोड़ रुपए के निवेश के साथ मुंबई की बढ़ती जरूरतों को पूरा करने के लिए वर्ष 1997 में दूसरे हवाई अड्डे के रूप में प्रस्तावित किया गया था। हालांकि , इसे 2007 में सरकार की मंजूरी मिली। भूमि अधिग्रहण की समस्याओं और पर्यावरण संबंधी मंजूरी सहित सरकारी अनुमतियां प्राप्त करने में देर होने के कारण परियोजना में देरी हुई। 

कर्नाटक चुनाव के समय पेट्रोल-डीजल की कीमतें नहीं बढ़ना संयोग: आईओसी

हवाईअड्डा परियोजना को सार्वजनिक-निजी भागीदारी मॉडल पर बनाया जाएगा और परियोजना को निष्पादित करने के लिए सिडको को अधिकृत किया गया है। जीवीके समूह अपनी सहायक कंपनी, मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट ( एमआईएएल ) के माध्यम से नवी मुंबई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे ( एनएमआईएएल ) में 74 प्रतिशत हिस्सेदारी रखता है, जबकि सिडको के पास शेष 26 फीसदी हिस्सेदारी है। -एजेंसी 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.