पार्सल ढुलाई कारोबार को बढ़ाने में मदद करेगा अमेजन, फ्लिपकार्ट

Samachar Jagat | Monday, 16 Apr 2018 10:14:40 AM
Parcel transportation will help increase business Amazon Flipkart
Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली।  ई-रिटेल क्षेत्र देश में पार्सल पहुंचाने के बाजार में बड़ा उथल पुथल करने वाला साबित हो सकता है और इसमें अमेजन तथा फ्लिपकार्ट जैसी बड़ी आनलाइन खुदरा कंपनियों की भूमिका अग्रणी होगी।  चालू वित्त वर्ष में ई-रिटेल क्षेत्र का पार्सल पहुंचाने के बाजार में योगदान 5,000 करोड़ रुपए  रहने की उम्मीद है। इसमें हवाई कार्गो (विमान से माल पहुंचाने) के कारोबार का हिस्सा करीब 1, 000 करोड़ रुपए होगा।

सप्ताह के पहले दिन लाल निशान पर खुला शेयर बाजार

एक रिपोर्ट में यह अनुमान लगाया गया है। पिछले सप्ताह जारी एक्सप्रेस उद्योग रिपोर्ट 2018 में कहा गया है कि ई - कामर्स कंपनियों ने पार्सल भेजने के परंपरागत परिचालन को चुनौती दी है और कई नए अवसरों का दोहन किया है और मूल्यवर्धन के नए रास्ते खोले हैं।  

अक्षय तृतीया के मौके पर आभूषणों की बिक्री में 15-20 प्रतिशत वृद्धि का अनुमान

रिपोर्ट में कहा गया है कि 17,000 करोड़ रुपए के घरेलू एक्सप्रेस उद्योग (पार्सल परिवहन) में सड़क और हवाई मार्ग दोनों से पार्सल पहुंचाने का कारोबार शामिल है। यह बाजार सालाना 15 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है। इस वृद्धि में प्रमुख योगदान ई कामर्स कंपनियों का है।

आईडीबीआई बैंक ने वित्तीय सेहत सुधारने, एनपीए कम करने की रूपरेखा बनाई

रिपोर्ट कहती है कि घरेलू उद्योग में कुल 5,000 करोड़ रुपए का योगदान देने वाले एयर कार्गो एक्सप्रेस को ई - कामर्स क्षेत्र के आगे बढ़ने से काफी फायदा होगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि ई खुदरा उद्योग घरेलू जमीनी एक्सप्रेस क्षेत्र में 4,000 करोड़ रुपए का और घरेलू हवाई एक्सप्रेस क्षेत्र में 1,000 करोड़ रुपए का योगदान करेगा।

 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.