आधार को स्वैच्छिक बनाने संबंधी विधेयक पर संसद की मुहर

Samachar Jagat | Tuesday, 09 Jul 2019 09:32:07 AM
Parliament's Seal on Bill on Making Aadhaar voluntary

नई दिल्ली। आधार को स्वैच्छिक बनाने के प्रावधान वाले आधार और अन्य विधियां (संशोधन) विधेयक 2019 पर सोमवार को संसद की मुहर लग गई। राज्यसभा ने भोजनावकाश के बाद लगभग तीन घंटे की चर्चा के बाद इसे ध्वनिमत से पारित कर दिया। लोकसभा इसे पहले ही पारित कर चुकी है। इससे पहले सदन ने दो मार्च को जारी आधार और अन्य विधियां (संशोधन) अध्यादेश 2019 को अनुमोदित नहीं करने के भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के इलामारम करीम के प्रस्ताव को खारिज कर दिया।

इस विधेयक के जरिए आधार (वित्तीय और अन्य सहायिकियों, प्रसुविधाओं और सेवाओं का लक्षित परिदान) अधिनियम 2016 और भारतीय तार अधिनियम 1886 और धन शोधन निवारण अधिनियम 2002 में बदलाव किया गया है। संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि विधेयक में उच्चतम न्यायालय की आधार को लेकर गयी टिप्पणियां के अनुरुप प्रावधान किये गये हैं।

आधार को किसी भी सेवा के लिए अनिवार्य नहीं किया गया है। आधार पूरी तरह वैकल्पिक और स्वैच्छिक है। इसके लिए बैंक और दूरसंचार कंपनियों को उपभोक्ता से अनुमति लेनी होगी। बच्चे के वयस्क होने के बाद उसके पास यह विकल्प रहेगा कि वह आधार के इस्तेमाल के बारे में अपनी अनुमति दे या नहीं। उन्होंने कहा कि सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के तहत सब्सिडी और अन्य रियायतों के लिए जहां भी आधार को अनिवार्य बनाया गया है वहां यह प्रावधान कानून बनाकर किया गया है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.