पतंजलि मेगा फूड पार्क: उ.प्र. सरकार ने केंद्र से कंपनी को 15 दिन और समय देने को कहा

Samachar Jagat | Thursday, 14 Jun 2018 09:08:24 AM
Patanjali Mega Food Park: U.P. Government asks Center to give 15 days more time

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली।  उ . प्र . सरकार ने केंद्र से यह अनुरोध किया है कि यमुना एक्सप्रेसवे के साथ प्रस्तावित 6,000 करोड़ रुपए का मेगा फूड पार्क की स्थापना हेतु शर्तो का अनुपालन करने के लिए पतंजलि आयुर्वेद को 15 दिन का समय और दिया जाना चाहिए। इस प्रमुख एफएमसीजी कंपनी को प्रस्तावित पार्क की स्थापना हेतु अंतिम मंजूरी प्राप्त करने हेतु जरूरी शर्तों को पूरा करने के लिए केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय द्बारा 15 जून तक की समयसीमा दी गई है।

Oppo Find X ने बाजार में मचाई धूम, स्मार्टफोन के इन शानदार फीचर्स को जानकर रह जाओगे हैरान!

केंद्र को लिखे एक पत्र में, उत्तर प्रदेश (यूपी) सरकार ने निर्धारित समय सीमा को 30 जून तक बढ़ाने का अनुरोध किया है। उत्तर प्रदेश बुनियादी ढांचा और औद्योगिक विकास विभाग के आयुक्त अनुप चंद्र पांडे ने पत्र में कहा है, ’’अंतिम मंजूरी के लिए खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय की अंतर - मंत्रालयी अनुमोदन समिति द्बारा दी गयी 15 जून तक की समयसीमा को 30 जून तक बढ़ाने का अनुरोध किया जाता है। ’’

हांगकांग के बैंकिंग विनियामक ने पीएनबी-आईओबी की शाखाओं की निगरानी बढ़ाई

इस अवधि में कंपनी को जो शर्तें पूरी करनी हैं उनमें पतंजलि आयुर्वेद की सहायक कंपनी पतंजलि फूड एंड हर्बल पार्क नोएडा प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर भूमि का हस्तांतरण किया जाना भी शामिल है। पतंजलि के प्रवक्ता एस के तिजारावाला ने कहा: ’’ हम आश्वस्त हैं और उ . प्र . के मुख्यमंत्री द्बारा उठाए गए गंभीर कदमों पर संतोष जताते हैं। चूंकि केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय का रवैया सहयोगपूर्ण है , इसलिए हमें आशा है कि 15 दिन का समयविस्तार दिया जाएगा ताकि राज्य सरकार इसकी औपचारिकताओं को पूरा कर ले। ’’

आरकॉम में कर्मचारियों की संख्या 94 प्रतिशत घटी, सिर्फ रह गए इतने ही कर्मचारी

हरिद्वार की इस कंपनी ने यमुना एक्सप्रेसवे के साथ अपनी ' स्टेप - डाउन फर्म ’ पतंजलि फूड एंड हर्बल पार्क के माध्यम से 425 एकड़ जमीन पर एक संयंत्र स्थापित करने के लिए 6,000 करोड़ रुपए के निवेश का प्रस्ताव रखा है। छह जून को पतंजलि ने कहा था कि पूरी क्षमता के साथ काम करने की स्थिति में उसका मेगा फूड पार्क सालाना 25,000 करोड़ रुपये का माल तैयार करेगा जिसमें 10,000 लोगों को प्रत्यक्ष नौकरियां देने की परिकल्पना की गई है। पतंजलि वर्तमान में मेगा फूड-पार्क परियोजनाओं में निवेश कर रही है। इसमें नागपुर (महाराष्ट्र) और तेजपुर (असम) पार्क भी शामिल है।

 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.