बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान नहीं करने वाली चीनी मिलों को नोटिस जारी

Samachar Jagat | Tuesday, 22 Nov 2016 09:37:27 AM
बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान नहीं करने वाली चीनी मिलों को नोटिस जारी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने किसानों का 1292 करोड 25 लाख रुपए गन्ना मूल्य का भुगतान नहीं करने वाली 17 चीनी मिलों को नोटिस जारी की है। राज्य के गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग, आयुक्त विपिन कुमार द्विवेदी ने यहां बताया कि 27 चीनी मिलों पर पेराई सत्र 2015-16 का 1292 करोड 25 लाख रुपए गन्ना मूल्य का भुगतान अवशेष है।

इसमें से 17 चीनी मिलों पर द्वितीय किश्त के रुप में 279 करोड 85 लाख रुपए का बकाया है। इन 17 मिलों द्वारा गन्ना मूल्य की प्रथम किश्त का भुगतान पूर्व में किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि इन सभी 17 चीनी मिलों को नोटिस जारी कर शीघ्र भुगतान के निर्देश दिये गये हैं।

द्विवेदी ने बताया कि इसके अलावा प्रथम किश्त का भी भुगतान बकाया रखने वाली 10 चीनी मिलों की आर सी भी निर्गत की जा चुकी है। जिसमें प्रभावी कार्रवाई के लिए जिलाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। पेराई सत्र 2015-16 के लिए गन्ने का राज्य परामर्शित मूल्य निर्धारित करते हुए किसानों का गन्ना मूल्य भुगतान दो किश्तों में किए जाने की व्यवस्था शासन द्वारा निर्धारित की गई थी।

गन्ना आयुक्त ने बताया कि गन्ना मूल्य की प्रथम किश्त का भुगतान चीनी मिल को गन्ना आपूर्ति के 14 दिन के अन्दर 230 रुपए प्रति कुन्तल की दर से और राज्य परामर्शित मूल्य’ के मुताबिक अनुपयुक्त सामान्य एवं अगैती प्रजाति के लिए निर्धारित दरों के तहत शेष द्वितीय किश्त के रुप में क्रमश: 45, 50 एवं 60 रुपये प्रति कुन्तल की दर से पेराई समाप्ति की तिथि से 3 माह के अन्दर पूर्ण रुप से भुगतान करने की व्यवस्था शासन द्वारा निर्धारित की गई।

उन्होंने बताया कि जिन 17 चीनी मिलों को नोटिस जारी की गई है ये सभी निजी क्षेत्र की चीनी मिलें हैं जिनमें से आठ चीनी मिलें बजाज ग्रुप की हैं। उन्होंने बताया कि भुगतान सुनिश्चित न करने वाली चीनी मिलों के खिलाफ सुसंगत विधिक प्राविधानों के तहत दण्डात्मक कार्रवाई भी की जाएगी।

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.