पेट्रोल- डीजल से सरकार ने कमाए 11 लाख करोड़ : कांग्रेस

Samachar Jagat | Friday, 31 Aug 2018 02:20:50 PM
Petrol, diesel earns Rs 11 lakh crore from Congress: Congress

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि मोदी सरकार ने पेट्रोल तथा डीजल सस्ते में खरीदकर उस पर भारी उत्पाद शुल्क लगाया है और इससे 11 लाख करोड़ रुपए की कमायी की है। कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने शुक्रवार को जारी एक बयान में कहा कि देश में डीजल और पेट्रोल की कीमत अब तक की सबसे ऊंची दर पर बेचा जा रहा है। इन पदार्थों पर अनावश्यक उत्पाद शुल्क लगाया गया है जिसके कारण पेट्रोल डीजल की कीमत आसमान छू रही है।

सुरेश प्रभु ने ऑटो, मालवाहक विमान और विनिर्माण पर मांगा जापान से सहयोग 

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार पेट्रोल डीजल पर लगातार उत्पाद शुल्क बढा रही है और 2014 से अब तक इन पदार्थों पर 211.7 प्रतिशत उत्पाद शुल्क बढ़ाया जा चुका है। इसी का परिणाम है कि दिल्ली में डीजल 70.26 पैसा प्रति लीटर की दर से बिक रहा है जो अब तक की सबसे ज्यादा कीमत है।

गूगल तेज का नाम बदलकर हुआ Google Pay, लकी विजेताओं को गूगल दे रहा 1 लाख रुपए का इनाम

उन्होंने कहा कि तेल के आसमान छूते दामों के कारण वस्तुओं के दाम भी बढ गए हैं और इससे मध्यम वर्ग, किसान, ट्रांसपोर्ट तथा लघु एवं छोटे कारोबार प्रभावित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश की जनता मोदी सरकार को अगले आम चुनाव में इसका करारा जवाब देगी। 

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत देश के अधिकतर राज्यों में पेट्रोल के दाम आज रिकॉर्ड उच्चतम स्तर पर पहुँच गए। डीजल की महँगाई भी नये ऐतिहासिक स्तर पर रही। कच्चे तेल की कीमतों में जारी तेजी और डॉलर की तुलना में रुपये के लुढ़कने के कारण दोनों ईंधनों के दाम लगातार छठे दिन बढ़े हैं। 

देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन से प्राप्त जानकारी के अनुसार, चार महानगरों दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में शुक्रवार को पेट्रोल के दाम 21 से 23 पैसे प्रति लीटर के बीच बढ़ाए गए जो इस साल 09 जुलाई के बाद की सबसे बड़ी बढ़ोतरी है।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.