PNB धोखाधड़ी मामला: नीरव मोदी के ठिकानों पर ईडी के छापे

Samachar Jagat | Thursday, 15 Feb 2018 01:35:25 PM
PNB fraud case: ED raid on Nirav Modi's bases

मुंबई। आभूषण डिजाइनर नीरव मोदी और कुछ अन्य के खिलाफ 280 करोड़ रुपये की मनी लांडरिंग के आरोपों की जांच के सिलसिले में आज प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने देश में कई जगह छापेमारी की। यह कार्रवाई पंजाब नेशनल बैंक की शिकायत के आधार पर की जा रही है। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि तड़के शुरू हुई कार्रवाई में मुंबई, गुजरात और दिल्ली में कम से कम दस जगह छापे डाले गए। 

ADB ने आर्थिक गलियारे में निवेश बढ़ाने की प्रतिबद्धता दोहराई

प्रवर्तन निदशालय के अधिकारियों ने जिन जगहों पर यह कार्रवाई की, उनमें मोदी का मुंबई के कुरला इलाके का घर, काला घोड़ा इलाके की डिजाइनर आभूषणों की दुकान, बांद्रा और लोअर परेल इलाके में कंपनी के तीन ठिकाने, गुजरात के सूरत में तीन ठिकाने और दिल्ली के डिफेंस कालोनी और चाणक्यपुरी इलाके में मोदी के शो-रूम शामिल हैं।

प्रवर्तन निदेशालय ने मामले में सीबीआई में इस माह के शुरू में दर्ज एक प्राथमिकी (एफआईआर) के आधार पर मनी लांडरिंग निरोधक अधिनिमय (पीएमएलए) के तहत मामला दर्ज किया है।
समझा जाता है कि ईडी ने पीएनबी की ओर से मोदी और अन्य के खिलाफ प्रस्तुत की गयी शिकायातों पर भी गौर किया है। 

जेट एयरवेज का मुनाफा 46 प्रतिशत घटा

सीबीआई ने नीरव मोदी, उसकी पत्नी और उसके एक भागीदार को बैंक के साथ 2017 में 280.70 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले में नामजद किया है।

प्रवर्तन निदेशालय की टीमों ने नीरव मोदी के भाई निशाल, पत्नी अमी और मेहुल चीनूभाई चोकसी तथा दो नामजद बैंक अधिकारी गोकुलनाथ शेट्टी और मनोज खराट के घरों पर भी तलाशी की। निशाल, अमी और मेहुल ये सभी डायमंड आर यूएस, सोलार एक्सपोर्ट्स और स्टेलर डामंड्स में भागीदार है। शेट्टी सेवानिवृत्त हो चुका है।

सीबीआई की प्राथमिकी में कहा गया है कि इन सरकारी (बैंक) अधिकारियों ने उपरोक्त फर्मों को धन का लाभ पहुंचाने के लिए अपने आधिकारिक पद का दुरुपयोग किया जिससे 2017 में पंजाब नेशनल बैंक को 280.70 करोड़ रुपये का गलत तरीके से नुकसान हुआ। 

बैंक ने यह भी शिकायत की है कि उसके यहां से धोखाधड़ी कर के आरोपी इकाइयों के पक्ष में या उनकी ओर से 16 जनवरी 2018 को कुछ साख-पत्र जारी किए गए। इन इकाइयों ने बैंक की मुंबई स्थित संबंधित शाखा को आयात संबंधी कुछ दस्तावेज दिए थे और आवेदन किया था कि माल भेजने वाली विदेशी इकाइयों के भुगतान के लिए क्रेता की ओर से साख पत्र जारी कर दिए जाएं।

ऐसा किया तो एयरलाइंस होगा यात्रियों को भुगतान करने के लिए उत्तरदायी

सीबीआई को कल पीएनबी की ओर से दो और शिकायतें मिलीं। इनमें बैंक ने अब कहा है कि नीरव मोदी और एक आभूषण कंपनी ने उसके साथ सौदों में 11,400 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की है।
    



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.