ब्याज दरों में 0.35 प्रतिशत की कटौती कर सकता है रिजर्व बैंक : रिपोर्ट

Samachar Jagat | Wednesday, 05 Jun 2019 02:38:40 PM
RBI may cut interest rates by 0.35 percent

मुंबई। भारतीय रिजर्व बैंक बृहस्पतिवार को पेश होने वाली मौद्रिक नीति समीक्षा में नीतिगत दरों में 0.35 प्रतिशत की गैर परंपरागत स्तर की कटौती कर सकता है। केंद्रीय बैंक प्राय: 0.25 या 0.50 प्रतिशत की कटौती या वृद्धि करते हैं। विदेशी ब्रोकरेज कंपनी बैंक आफ अमेरिका मेरिल लिच (बोफाएमएल) की रिपोर्ट में कहा गया है कि मुद्रास्फीति संतोषजनक स्तर पर है, जिस वजह से केंद्रीय बैंक परंपरागत से हटकर ब्याज दरों में कुछ अधिक की कमी कर सकता है। 

Rawat Public School

विश्वबैंक ने 2019-20 के लिये भारत की आर्थिक वृद्धि दर के पूर्वानुमान को 7.50 प्रतिशत बनाये रखा

ज्यादातर विश्लेषकों की राय है कि रिजर्व बैंक चालू वित्त वर्ष की दूसरी द्बिमासिक मौद्रिक समीक्षा में नीतिगत दरों में 0.25 प्रतिशत की कटौती करेगा। वृद्धि दर की चिंता में केंद्रीय बैंक द्बारा दरों में कटौती की उम्मीद जताई जा रही है। मार्च तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर घटकर 5.8 प्रतिशत पर आ गई है जो इसका पांच साल का निचला स्तर है। मुख्य मुद्रास्फीति हालांकि अप्रैल में बढ़कर 2.92 प्रतिशत हो गई।

IGST क्रेडिट का लाभ उसी वित्त वर्ष में नहीं लेने पर भी खत्म नहीं होगा क्रेडिट: वित्त मंत्रालय

बोफाएमएल के विश्लेषकों का मानना है कि रिजर्व बैंक नीतिगत दरों में 0.35 प्रतिशत की कटौती करेगी, जबकि मई महीने की मुख्य मुद्रास्फीति 3.3 प्रतिशत पर पहुंच जाएगी। हालांकि यह सरकार द्बारा रिजर्व बैंक के लिए तय दो से छह प्रतिशत के लक्ष्य के भीतर ही हैं। रिपोर्ट में कहा गया कि नरेंद्र मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने के बाद राजकोषीय तथा करेंसी के मोर्चे पर जोखिम कम हुआ है। इससे उम्मीद है कि ब्याज दरों में 0.25 प्रतिशत से अधिक की कटौती होगी। -एजेंसी

डिजिटल भुगतान: समिति ने कहा, कागज का इस्तेमाल कम हो, भुगतान का ढांचा मजबूत किया जाए



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.