आरबीआई ने समाप्त की लेटर ऑफ अंडरस्टैंडिंग सुविधा

Samachar Jagat | Tuesday, 13 Mar 2018 08:03:03 PM
RBI terminated the Letter of Understanding facility

मुंबई। पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) फर्जीवाड़े के मद्देनजर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बैंकों द्वारा लेटर ऑफ अंडरस्टैंडिंग (एलओयू) या लेटर ऑफ कंफर्ट जारी करने पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगा दिया है। हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने करीब 13 हजार करोड़ रुपये का पूरा घोटाला फर्जीवाड़ा कर बनाये गये पीएनबी के एलओयू के आधार पर कर डाला। वह लगातार एलओयू बनवाकर उनके आधार विदेशों में ऋण लेता रहा।

एक्सिस बैंक जल्द लाएगा व्हाट्सऐप से भुगतान की सुविधा

आयातकों को एलओयू के आधार पर विदेशों में ऋण जारी किया जाता था और ऋण नहीं चुकाने की स्थिति में देनदारी एलओयू जारी करने वाले बैंक की बन जाती है।  आरबीआई ने आज जारी अधिसूचना में कहा, मौजूदा दिशा-निर्देशों की समीक्षा के बाद भारत में आयात के लिए ऋण के लिए बैंकों द्वारा एलओयू जारी करने की व्यवस्था तत्काल प्रभाव से समाप्त करने का फैसला किया गया है।

भारत ने किया सोयाबीन का रिकॉर्ड स्तर पर आयात

उसने स्पष्ट किया है कि लेटर ऑफ क्रेडिट या बैंक गारंटी के जरिये गारंटी और सह-स्वीकार्यता के आधार पर आयात के लिए ऋण देने की व्यवस्था बनी रहेगी।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.