राजस्व के मामले में रिलायंस ने इंडियन ऑयल को पीछे छोड़ा

Samachar Jagat | Tuesday, 21 May 2019 02:56:42 PM
Reliance overtakes Indian oil in terms of revenue

नई दिल्ली। तेल एवं गैस, दूरसंचार और खुदरा कारोबार समेत अन्य क्षेत्रों में कार्यरत देश के सबसे बड़े धनकुबेर मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने सार्वजनिक क्षेत्र की अग्रणी तेल शोधन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (आईओसी) को कुल राजस्व के मामले में पीछे छोड़ दिया है। आईओसी की बिक्री 31 मार्च 2019 को समाप्त वित्त वर्ष में आठ अरब 79 करोड़ डॉलर (61 खरब 70 अरब रुपए) रही। 

Rawat Public School

दफ्तरों में काम करने वाले 7,000 कर्मचारियों की छंटनी कर रही फोर्ड

आरआईएल ने इस मामले में आईओसी को पछाड़ते हुए पिछले वित्त वर्ष में 62 खरब 30 करोड़ रुपए का कारोबार किया। आरआईएल की कुल आय में उसके खुदरा, दूरसंचार और डिजिटल सेवाओं से प्राप्त होने वाला राजस्व करीब एक चौथाई रहा और इसकी बदौलत अंबानी एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए।

विलय प्रभाव: बैंक ऑफ बड़ौदा 800-900 शाखाओं को दूसरी जगह स्थानांतरित करेगा या बंद करेगा

बाजार पूंजीकरण के मामले में आईओसी से आरआईएल कहीं आगे है। आरआईएल का बाजार पूंजीकरण मंगलवार को 8,56,069.63 करोड़ रुपए रहा था जबकि आईओसी का 1,48,347.90 करोड़ रुपए रहा । आरआईएल के शेयर की कीमत आज मुंबई शेयर बाजार में 1350.65 रुपए थी तो आईओसी की 152.90 रुपए रही। -एजेंसी

आईएल एंड एफएस के 7 पवन ऊर्जा संयंत्रों को खरीदेगी जापान की ओरिक्स



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.