एसबीआई ने फिर एमसीएलआर घटाकर सस्ता किया होम लोन, एफडी पर भी घटाया ब्याज

Samachar Jagat | Monday, 09 Sep 2019 01:37:58 PM
SBI again reduced home loan by reducing MCLR, also reduced interest on FD

इंटरनेट डेस्क। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का लोन चुका रहे और लोन लेने वाले लोगों के लिए खुशखबरी है। बैंक सभी अवधि के कर्ज पर मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट यानी डब्स्त् घटा दिया है।

बैंक ने एमसीएलआर में 10 बेसिस पॉइंट्स की कटौती की है, जिससे ब्याज दरों में भी 10 बीपीएस की कमी आएगी। नई दरें 10 सितंबर से लागू हो जाएंगी। बैंक ने लगे हाथ फिक्स्ड डिपॉजिट की ब्याज दर में भी 20-25 बेसिस पॉइंट्स की कटौती का ऐलान कर दिया। 1 बेसिस पॉइंट 0.01 प्रतिशत के बराबर होता है।इसलिए रेट कट के बाद एक साल का एमसीएलआर  8.25 फीसदी से घटकर 8.15 प्रतिशत पर आ जाएगा।

एमबीआई ने मौजूदा वित्त वर्ष (2019-20) में पांचवीं बार एमसीएलआर में कटौती की है। देश के सबसे बड़े बैंक ने अगस्त में त्ठप् की मौद्रिक नीति की समीक्षा पेश होने के बाद से दूसरी बार डब्स्त् में कटौती की है। पॉलिसी रिव्यू के बाद बैंक ने 15 बेसिस पॉइंट्स की कटौती का ऐलान किया था, जो 10 अगस्त से लागू हुआ था।

अवधि    मौजूदा एमसीएलआर (प्रतिशत में)    नया डएमसीएलआर  (प्रतिशत में)
रातभर के लिए    7.9    7.8
1 महीना    7.9    7.8
3 महीना    7.95    7.85
6 महीना    8.1    8
1 साल    8.25    8.15
2 साल    8.35    8.25
3 साल    8.45    8.35

एसबीआई नहीं, दूसरे कई बैंक भी डब्स्त् घटा रहे हैं। सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, ऐक्सिस बैंक, ओरिएंयटल बैंक ऑफ कॉमर्स, प्क्ठप् बैंक और प्क्थ्ब् फर्स्ट बैंक भी दरों में कटौती कर चुके हैं।

इस वर्ष रीपो रेट 110प्रतिशत घटा चुका है एसबीआई का - आरबीआई इस वर्ष की शुरुआत से अब तक रीपो रेट में 110 बेसिस पॉइंट्स यानी 1.10ः की कटौती कर चुका है। हालांकि, बैंक उसका पूरा फायदा ग्राहकों को नहीं पहुंचा पाए हैं। केंद्रीय बैंक के रेट कट का फायदा ग्राहकों तक पहुंचाने के लिए सभी बैंकों को निर्देश दिया गया है कि वो 1 अक्टूबर से जारी किए जाने वाले सभी तरह के लोन को तीन बाहरी बेंचमार्कों से किसी एक से जरूर जोड़ें।


बैंकों को सख्त निर्देश - लोन पर रेट का फायदा होता है तो बैंक जमा पर मिलने वाले ब्याज में कमी आती है। इस बार भी एसबीआई ने एमसीएलआर में कटौती करने के साथ-साथ फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज दर भी घटा दिया है। उसने हर अवधि के रिटेल एफडी पर 20-25 बेसिस पॉइंट्स की कटौती का ऐलान किया है। बल्क डिपॉजिटर्स के लिए रेट में 10 से 20 बीपीएस तक की कटौती की गई है। नई दरें 10 सितंबर से लागू होंगी। पिछले दो महीनों में यह तीसरी बार है जब बैंक ने एफडी पर ब्याज दर घटाई है। 

एफडी की अवधि    मौजूदा रेट (26 अगस्त, 2019 से लागू)    नया रेट (10 सितंबर, 2019 से लागू)
7 से 45 दिन    4.50    4.50
45 से 179 दिन    5.50    5.50
180 से 210 दिन    6.00    5.80
211 दिन से 1 साल    6.00    5.80
1 साल से लेकर 2 साल के कम    6.75    6.50
2 साल से लेकर 3 साल से कम    6.50    6.25
3 साल से लेकर 5 साल से कम    6.25    6.25
5 साल से लेकर 10 साल से कम    6.25    6.25

सीनियर सिटिजंस के लिए 10 सितंबर 2019 से नए एफडी रेट्स

एफ की अवधि    मौजूदा रेट (26 अगस्त, 2019 से लागू)    नया रेट (10 सितंबर, 2019 से लागू)
7 से 45 दिन    5.00    5.00
45 से 179 दिन    6.00    6.00
180 से 210 दिन    6.50    6.30
211 दिन से 1 साल    6.50    6.30
1 साल से लेकर 2 साल के कम    7.20    7.00
2 साल से लेकर 3 साल से कम    7.00    6.75
3 साल से लेकर 5 साल से कम    6.75    6.75
5 साल से लेकर 10 साल से कम    6.75    6.75
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.