स्टेट बैंक के दिल्ली मंडल को छोटे उद्योगों के कर्ज में 15 प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद

Samachar Jagat | Thursday, 06 Jun 2019 11:02:40 AM
State Bank of Delhi hopes to increase loan for small industries by 15 percent

नई दिल्ली। देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक का जोर लघु उद्योगों को कर्ज देने पर है। इसके चलते बैंक को चालू वित्त वर्ष के दौरान लघु उद्योग क्षेत्र के कर्ज में 15 प्रतिशत से अधिक वृद्धि की उम्मीद है। एक वरिष्ठ बैंक अधिकारी ने यह बात रही। लघु उद्योगों का अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण योगदान होता है। सरकार भी इस क्षेत्र पर ध्यान दे रही है।

Rawat Public School

ऐसे में भारतीय स्टेट बैंक ने लघु उद्योगों के लिये कर्ज बढ़ाने की मुहिम शुरू की है। स्टेट बैंक समूह का दिल्ली सर्कल सबसे बड़ा है। क्षेत्र में बैंक की 67 शाखायें विशेषतौर पर सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों को समर्पित हैं। एसबीआई दिल्ली मंडल के मुख्य महा प्रबंधक विजय रंजन ने कहा कि मार्च 2019 को हमारा एसएमई क्षेत्र को कुल कर्ज 20,000 करोड़ रुपए है और हमें उम्मीद है कि चालू वित्त वर्ष के दौरान इसमें 15 प्रतिशत वृद्धि हासिल कर ली जायेगी।

हमें उम्मीद है कि इस वित्त वर्ष की समाप्ति पर हमारा परिसंपत्ति खाता 23,000- 24,000 करोड़ रुपए तक पहुंच जाएगा। उन्होंने कहा कि चालू वित्त वर्ष के दौरान हमारा प्रयास होगा कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) के तहत दिए गए लक्ष्य के अलावा हम कम से कम 1,400 नई सूक्ष्म, लघु और मध्यम (एमएसएमई) इकाइयों को अपने दायरे में लाए।

रंजन ने कहा कि इसके अलावा स्टेट बैंक दिल्ली मंडल एक मिनट से भी कम समय में लघु उद्योगों को रिण उपलब्ध कराने वाले पोर्टल पीएसबीलोन्सइन59मिनट्स से भी ग्राहकों को ऋण उपलब्ध कराएगा। उन्होंने कहा कि इससे बैंक के एमएसएमई पोर्टफोलियो को बढ़ाने में मदद मिलेगी।

उन्होंने कहा कि बैंक के कुल अग्रिम में लघु उद्यागों का कुल अग्रिम करीब 27 प्रतिशत तक है। मार्च 2019 के अंत में एसबीआई मंडल का कुल जमा 2.88 लाख करोड़ रुपये रहा जबकि अग्रिम राशि 72,000 करोड़ रुपए रही। कुल कारोबार 3.60 लाख करोड़ रुपये रहा जो कि सार्वजनिक क्षेत्र के कई छोटे बैंकों और निजी बैंकों से ज्यादा है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.