रोजगार सृजन के लिए निर्यात में और वृद्धि आवश्यक : प्रभु

Samachar Jagat | Sunday, 10 Mar 2019 09:59:38 AM
Target to bring FDI inflows of 100 billion dollar by 2020

इंटरनेट डेस्क। इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स के एक कार्यक्रम में केंद्रीय उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि हमने 2020 तक 100 अरब डॉलर का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) आकर्षित करने का लक्ष्य तय किया है और इस दिशा में काम करना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि साल 2018 में भारत ने पहली बार ​चीन को आकर्षित करने के मामले में पीछे छोड़ दिया और पिछले साल जहां चीन में 32 अरब डॉलर का एफडीआई हुआ वहीं भारत में 38 अरब डॉलर का एफडीआई आया। 

लंदन में 80 लाख डॉलर के अपार्टमेंट में रह रहा है भगोड़ा नीरव मोदी, कर रहा नया कारोबार: रिपोर्ट

खबरों के अनुसार, अगस्त में 16 अरब डॉलर के वालमार्ट-फ्लिपकार्ट सौदे से आया निवेश भी इस एफडीआई में शामिल है। उन्होंने कहा कि सरकार एफडीआई के लिए क्षेत्रवार आकलन कर रही है और इन्हें आकर्षित करने के लिए उचित नियम तैयार कर रही है।

जानिए आज के सोने और चांदी के दाम, गोल्ड हुआ 200 रुपए महंगा, तो सिल्वर भी चमकी 

वहीं देश के निर्यात को लेकर केंद्रीय उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि इस वित्त वर्ष में देश का निर्यात 2014 के 323 अरब डॉलर के अब तक के सर्वोच्च स्तर को पार कर जाएगा और 330 अरब डॉलर से अधिक रहेगा। इसी के साथ उन्होंने इस पर असंतुष्टि जाहिर करते हुए कहा कि लेकिन मैं इससे खुश नहीं हूं। हमें और अधिक निर्यात करना होगा, इससे रोजगार सृजन में भी मदद मिलेगी।

यात्री वाहनों की बिक्री फरवरी में 1.11 प्रतिशत गिरी, 11 माह में 3.27 प्रतिशत रही वृद्धि: सिआम

देश का वस्तु निर्यात 2018-19 में 330 अरब डालर का रहेगा: प्रभु



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.