आज बैंक बंद, एटीएम के बाहर लंबी कतारें

Samachar Jagat | Monday, 14 Nov 2016 12:17:56 PM
आज बैंक बंद, एटीएम के बाहर लंबी कतारें

नई दिल्ली। गुरूपर्व के मौके पर देश के अधिकांश हिस्सों में आज बैंक बंद होने के चलते नकदी के लिए परेशान लोगों की एटीएम के बाहर लंबी-लंबी कतारें देखी जा सकती हैं। लोग सुबह से ही एटीएम के बाहर पहुंच गए लेकिन सीमित नकदी के चलते बहुत कम लोगों को ही सफलता मिली है।

देश के कई हिस्सों में एटीएम और बैंकों के बाहर लोगों के बीच हाथापाई और तीखी बहसें होने की भी खबर है। रेस्तरां मालिक, छोटे व्यापारी, ट्रांसपोर्टर इत्यादि की हालत चिंताजनक है क्योंकि उनकी नकदी पर निर्भरता बहुत अधिक है। भारी भीड़ के चलते बैंक भी पूरी तरह सेवाएं देने में असमर्थ हैं।

गिरावट के साथ खुला बाजार, सेंसेक्स में 699 अंक गिरा

सरकार के निर्देश देने के बाद बैंकों ने दिव्यांगों और वरिष्ठ नागरिकों के लिए अलग से प्रबंध करने शुरू कर दिए हैं। लोगों को थोड़ी राहत देते हुए सरकार ने बैंकों से और एटीएम से नकदी निकालने की पाबंदियों में थोड़ी राहत दी है। इसके साथ ही चलन से बाहर हो चुके पुराने नोटों को बदलने की सीमा को भी थोड़ा बढ़ाया गया है।

इसके अलावा बाजार में नकदी प्रवाह को बढ़ाने के लिए सरकार ने नयी छपाई वाले 500 रपये के नोटों को भी जारी किया है। इन नोटों की नकल किया जाना बहुत मुश्किल है।

पेटीएम जैसे ई-वॉलेट से कर सकेंगे ट्रेन टिकट बुक

गौरतलब है कि मंगलवार रात को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 के पुराने नोटों के चलन पर पाबंदी की घोषणा की थी। वित्त मंत्रालय द्वारा समीक्षा किए जाने के बाद अब चलन से बाहर हो चुके 500 और 1000 के पुराने नोटों को नए नोटों से बदलने की सीमा को 4000 रपये प्रतिदिन से बढ़ाकर 4500 रपये प्रतिदिन कर दिया गया है। इसके अलावा एटीएम से नकदी निकालने की सीमा को 2000 रपये प्रतिदिन से बढ़ाकर 2500 रपये प्रतिदिन कर दिया गया है।             -एजेंसी

 

Read More:

सरकार ने बैंक, एटीएम से निकासी सीमा बढ़ाई

अब हर रोज एटीएम से निकालें ढ़ाई हजार, बैंकों से बदले 4500 रुपए

एथनॉल के इस्तेमाल से देश का तेल आयात हो सकता है कम: मोदी

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.