ट्राई ने दूरसंचार सेवा परीक्षण की अवधि, ग्राहक संख्या की सीमा तय करने की सिफारिश की

Samachar Jagat | Tuesday, 05 Dec 2017 05:50:29 AM
TRAI recommends setting the telecom service period, customer number limit

नई दिल्ली। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने किसी कंपनी की मोबाइल सेवाओं की औपचारिक तौर पर वाणिज्यिक शुरआत से पहले नेटवर्क परीक्षण के लिए नियमों के बारे में सुझाव दिये। ट्राई ने नेटवर्क परीक्षण के लिए 90 दिन की अवधि तथा ग्राहकों की संख्या के लिये स्पष्ट तौर पर सीमा तय किये जाने का प्रस्ताव किया है। 

मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जिओ द्वारा पिछले साल सितंबर में परिचालन की वाणिज्यिक शुरआत से पहले ही 15 लाख उपभोक्ता जोड़ लेने के बाद से उद्योग जगत में इस बात की बहस काफी तेज हो गयी है कि नेटवर्क परीक्षण के संबंध में क्या किया जाना चाहिए और क्या नहीं किया जाना चाहिए। पहले से मौजूद दूरसंचार कंपनियों ने उस समय इस पर आपत्ति जताते हुए कहा था कि जिओ परीक्षण की आड़ में मुफ्त सेवाओं के साथ संपूर्ण मोबाइल सेवा दे रही है। कंपनियों ने परीक्षण सेवाओं के संबंध में स्पष्ट नियमों की मांग की थी।

ट्राई ने अपनी सिफारिशों में कहा कि कंपनियों को परीक्षण के लिए उपभोक्ता जोडऩे की इजाजत मिलनी चाहिए लेकिन किसी क्षेत्र विशेष में उपभोक्ताओं की संख्या तथा इसकी अवधि तय होनी चाहिए। उसने अवधि 90 दिन रखने का सुझाव देते हुए कहा कि वाजिब वजहों के आधार पर इसे बढ़ाया जा सकता है। उसने उपभोक्ताओं की संख्या की सीमा के बारे में कहा कि यह किसी भी क्षेत्र में कंपनी के नेटवर्क की कुल क्षमता का पांच प्रतिशत होनी चाहिए।

ट्राई ने आगे कहा कि परीक्षण के दौरान एक कंपनी से दूसरी कंपनी में जाने की सुविधा (पोर्ट) लागू नहीं होनी चाहिए। उसने कहा कि कंपनियां परीक्षण अवधि में दी जाने वाली सेवाओं के बारे में उपभोक्ताओं को स्पष्ट जानकारी देगी। इसके अलावा कंपनियों को परीक्षण अवधि के उपभोक्ताओं को वाणिज्यिक शुरआत का दिन तथा परीक्षण के दौरान दी गयी शुल्क छूट की भी जानकारी मुहैया करानी होगी।

दूरसंचार कंपनियों के संगठन सेल्यूलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीओएआई) के महानिदेशक राजन मैथ्यूज ने संपर्क किये जाने पर इस बाबत कहा कि ट्राई के सुझाव उद्योग जगत की मांग के अनुरूप ही हैं लेकिन उपभोक्ताओं की संख्या पर पांच प्रतिशत की सीमा अधिक है। -(एजेंसी)



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.