कामकाजी माताओं के लिए दफ्तरों में सहयोगात्मक माहौल बनाने की जरूरत: एसोचैम

Samachar Jagat | Sunday, 12 May 2019 08:50:11 AM
Working moms need to create collaborative atmosphere in offices: Assocham

लखनऊ। उद्योग मण्डल 'एसोचैम' ने अंतरराष्ट्रीय मातृ दिवस पर महिला सशक्तिकरण के प्रति प्रतिबद्धता जाहिर करते हुए कामकाजी माताओं के लिए दफ्तरों में सहयोगात्मक माहौल बनाने की जरूरत पर जोर दिया है। एसोचैम के अध्यक्ष बी. के. गोयनका ने शनिवार को एक बयान में कहा ''दफ्तरों और कामकाज के अन्य स्थानों पर महिलाओं की बढ़ती भागीदारी के मद्देनजर एक अलग माहौल बनाने की जरूरत है।

स्पाइस जेट के दो विमानों में उड़ान के दौरान आई तकनीकी खामी

कामकाजी माताओं के लिए कार्यस्थलों के वातावरण को उनकी सुविधा के हिसाब से रूपान्तरित किए जाने और काम करने के घंटों में लचीलापन लाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि अनेक कंपनियों ने कामकाजी माताओं की जरूरतों के हिसाब से अपने संचालनात्मक ढांचे को ढालने का काम शुरू कर दिया है। गोयनका ने कहा कि उनकी नजर में स्वस्थ समाज के निर्माण में महिला सशक्तिकरण बेहद जरूरी है। लिहाजा कुल श्रम शक्ति में महिलाओं की भागीदारी को बढ़ाना भी है। पिछले पांच वर्षों के दौरान श्रम शक्ति में महिलाओं की भागीदारी का प्रतिशत 25 पर ही बना हुआ है।

वित्तीय संकट: जेट एयरवेज के लिए सिर्फ एतिहाद एयरवेज ने लगाई बोली

उन्होंने कहा कि इस भागीदारी को बढ़ाने के लिए उन्हें कार्यस्थल पर अनुकूल माहौल दिया जाना चाहिए, ताकि वे अपनी मातृत्व संबंधी जिम्मेदारियों और दफ्तर के दायित्वों के बीच संतुलन बना सकें। एसोचैम अध्यक्ष ने कहा कि उनका संगठन आर्थिक गतिविधियों में महिलाओं की भूमिका बढ़ाने के लिए अनेक कदम उठा रहा है। चैम्बर ने 'स्टार्ट-अप' योजना के तहत महिलाओं के क्षमता विकास तथा प्राविधिक प्रशिक्षण की दिशा में काम शुरू किए हैं। -एजेंसी

भारतीय स्टेट बैंक को 838 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ, कहा- बुरा समय बीता

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.