फरवरी में 5178 अध्यापक होंगे स्थाई : सोनी

Samachar Jagat | Monday, 14 Jan 2019 08:54:16 AM
5178 teachers will be stabilized in February: Soni

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

अमृतसर। पंजाब शिक्षा और खाद्य प्रसंस्करण मंत्री ओम प्रकाश सोनी ने रविवार को कहा कि फरवरी से राज्य के 5178 अध्यापकों को स्थाई कर उन्हे पूरा वेतन दिया जाएगा। सोनी ने यहां कहा कि राज्य सरकार शिक्षा स्तर में सुधार लाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है और इसी कड़ी के तौर पर अध्यापकों को स्थाई किया जा रहा है, ताकि वह तन-मन से बच्चों की पढ़ाई की तरफ ध्यान के सकें। उन्होंने बताया कि शिक्षा प्रोवाईडर और वालंटियर अध्यापकों के वेतन में भी फरवरी माह से 1500 रुपए प्रति महीना का विस्तार किया जा रहा है। 


SBI में नौकरी पाने का सुनहरा मौका, ऐसे करें आवेदन

उन्होंने बताया कि बीते समय में अध्यापक यूनियनों की तरफ से किए गए धरनों या आंदोलनों के दौरान जिन अध्यापकों को निलंबित किया गया था, उन्हें भी बहाल कर दिया गया है और धरनों में शामिल होने के कारण जिन अध्यापकों का तबादला दूर वाले क्षेत्रों में किया गया था, उन्हे वापिस अपने पुराने स्कूल में हाजिर होने के लिए आदेश जारी किए जा रहे हैं। 

राजस्थान हाईकोर्ट में निकली विभिन्न पदों पर भर्ती, 24 जनवरी तक करें आवेदन

शिक्षा मंत्री ने कहा कि अध्यापक यूनियन मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को मिलने की बात तो लगातार कर रही हैं, परन्तु वह यह वादा नहीं कर रही कि इस मीटिंग के बाद वह धरने त्याग कर पढ़ाई की तरफ ध्यान देंगे। उन्होने स्पष्ट किया कि बतौर शिक्षा मंत्री उन्होने कभी अध्यापकों का वेतन बढ़ाने का वादा नहीं किया, क्योंकि यह कैबिनेट का फ़ैसला होता है। सोनी ने कहा कि जो भी अध्यापक स्कूल छोड़ कर नेतागिरी करते हुए धरने में शामिल होंगे, उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। -एजेंसी

अगर आप भी पटवारी भर्ती 2019 परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं तो ऐसे करें आवेदन, निकली बंपर भर्ती

गुजरात लोक सेवा आयोग में वैज्ञानिक अधिकारी के पदों पर निकली भर्ती, अंतिम​ तिथि 17 जनवरी

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.