मुसलमानों को शिक्षा और रोजगार से और जोड़ने का प्रयास

Samachar Jagat | Tuesday, 05 Dec 2017 01:30:55 PM
Attempts to add more to education and employment to Muslims

मथुरा। उत्तर प्रदेश सरकार मुसलमानों को मुख्य धारा से जोड़ने के लिए उनकी शिक्षा और रोजगार को और प्रभावी बनाने का प्रयास करेगी। उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री मोहसिन रजा ने आज बताया कि इसके लिए मदरसों की शिक्षा को इस प्रकार बनाया जा रहा है कि उनमें पढ़ने वाले बच्चों को धार्मिक शिक्षा भी मिले साथ ही गणित, विज्ञान जैसे विषय भी अन्य स्कूलों की तरह पढाये जायें।

इसे मोटे रूप में यह भी कहा जा सकता है प्रधानमंत्री मोदी के सपनों के अनुरूप सरकार उनके एक हाथ में जहां कुरान देना चाहती है तो दूसरे में लैपटाॅप देना चाहती है। सरकार उनकी शिक्षा में मदरसों की धार्मिक शिक्षा में आधुनिक ज्ञान और विज्ञान को जोडऩा चाहती है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार अल्पसंख्यक बालिकाओं की शिक्षा को भी प्रभावी बनाने जा रही है। उन्हें सामाजिक बंधन से निकाला जाएगा। इसके तहत उन एनजीओ की मदद भी ली जाएगी जो महिलाओं द्वारा संचालित है एवं बालिका शिक्षा में काम कर रही हैं। इसके तहत विज्ञापन निकालकर पढऩे की इच्छुक बालिकाओं को उनकी सुरक्षा का भरोसा दिलाकर पहले आगे लाएंगे, उनकी शिक्षा की व्यवस्था बेहतर बनाकर ही अन्य बालिकाओं को इस योजना से जोड़ेंगे।

ऐसी बालिकाओं की शिक्षा की व्यवस्था सरकारी बालिका विद्यालयों या अन्य सरकारी स्कूलों में अलग से की जाएगी। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि सरकार अशिक्षित बेरोजगारों को शिक्षा देकर उन्हें स्वरोजगार के लिए प्रेरित करेगी। अल्पसंख्यक किशोरों या अधिक आयु के किशोरों को स्वरोजगार के साथ साथ शिक्षा भी दी जाएगी।

उन्हें जहां कौशल विकास मिशन से किसी हुनर से जोड़ा जाएगा वहीं उन्हें मुद्रा योजना के तहत ऋण दिलाने की व्यवस्था की जाएगी। साथ ही उन्हें शिक्षा देने की व्यवस्था भी की जाएगी क्योंकि एक शिक्षित मुसलमान समाज के लिए वरदान बनता है। एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.