आईआईटी और आईआईआईटी नए भारत के निर्माण के नींव के पत्थर: निशंक

Samachar Jagat | Saturday, 15 Jun 2019 08:56:21 AM
IIT and IIIT stones of foundation for the construction of new India: Nishank

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नयी दिल्ली। केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने सभी भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) और भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईआईटी) को देश के विकास की नींव बताते हुए इसके निदेशकों से शिक्षा में गुणवत्ता बढ़ाने एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनाने के लिए एक वर्षीय और पंचवर्षीय कार्यक्रम की रूप रेखा तैयार करने को कहा है। डॉ ‘निशंक’ ने शुक्रवार को नयी दिल्ली में आईआईटी और आईआईआईटी के निदेशकों के साथ समीक्षा बैठक के दौरान यह बात कही। 

केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने इस अवसर पर आईआईटी प्रवेश परीक्षा में सफल रहे सभी अभ्यर्थियों को हार्दिक बधाई देते हुए कहा, ‘‘ मुझे विश्वास है कि आप सभी नवभारत के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। जो विद्यार्थी प्रवेश परीक्षा में उत्तीर्ण नहीं हो पाए हैं उन्हें निराश नहीं होना चाहिए क्योंकि श्रेष्ठता सिद्ध करने के अभी कई अवसर आएंगे।’’ 

डॉ. निशंक ने संस्थान प्रमुखों को उनके बेहतरीन काम के लिए बधाई दी और अपेक्षा की कि इन महत्वपूर्ण संस्थाओं के अथक परिश्रम से हम दुनिया में शिक्षा के क्षेत्र में शीघ्र ही शीर्ष पर पहुंचेंगे। इस अवसर पर मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री संजय धोत्रे भी मौजूद रहे। 

उन्होंने सभी निदेशकों से कहा,‘‘ आप लोग देश के सबसे महत्वपूर्ण पदों पर हैं इसलिए आपकी जिम्मेदारी भी बड़ी हैं।’’ डॉ. निशंक ने कहा, ‘‘पूरे देश को आप पर गर्व है क्योंकि आपके संस्थान पूरे विश्व में गुणवत्तापरक शिक्षा के लिए जाने जाते हैं। हमें इस परंपरा को आगे बढ़ाना है और अपने संस्थानों को नए शिखर तक लेकर जाना है।

डॉ. निशंक ने संस्थानों की अगले 100 दिनों की कार्य योजना की भी समीक्षा की तथा उन्हें अगले एक वर्ष एवं पांच वर्षों की कार्ययोजना बनाने का निर्देश दिया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आईआईटी और आईआईआईटी जैसे संस्थान नए भारत के निर्माण के सशक्त माध्यम हैं। उन्होंने नए आईआईआईटी की अवस्थापना कार्यों की प्रगति की भी समीक्षा की तथा इन्हें जल्द से जल्द स्थाई भवनों से संचालित करवाने का लक्ष्य निर्धारित करने को कहा। उन्होंने इस संबंध में मंत्रालय की ओर से हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया। एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.