देश में केवल 13 प्रतिशत नियोक्ताओं की जुलाई-सितंबर तिमाही में नौकरियां देने की योजना

Samachar Jagat | Wednesday, 12 Jun 2019 11:06:13 AM
Only 13 percent employers in the country are planning to give jobs in the July-September quarter

नई दिल्ली। देश का रोजगार बाजार बदलाव से गुजर रहा है। मात्र 13 प्रतिशत नियोक्ताओं की ही अगले तीन महीनों में नए लोगों को भर्ती करने की संभावना है। जबकि 61 प्रतिशत नियोक्ता इस दौरान आपने कार्यबल में विस्तार की संभावना नहीं देख रहे हैं। मैनपावरग्रुप के रोजगार परिदृश्य सर्वेक्षण के अनुसार आने वाली तिमाही में 13 प्रतिशत नियोक्ताओं के अपने कार्यबल को बढ़ाने और 61 प्रतिशत के उसमें कोई बदलाव नहीं करने की उम्मीद है। वहीं 26 प्रतिशत नियोक्ता लोगों को नौकरी पर रखने या नहीं रखने को लेकर अनिश्चित हैं।

FCI में अब एक ही श्रेणी के होंगे श्रमिक, 4103 कर्मचारियों की होगी भर्ती :पासवान

Samachar Jagat

यदि इस स्थिति की तुलना 2018 की जुलाई-सितंबर तिमाही से की जाए तो यह नौकरी पर रखे जाने की उम्मीद में चार प्रतिशत की गिरावट को दिखाता है। मैनपावरग्रुप इंडिया में सहायक विपणन निदेशक सिथिया गोखले ने कहा, मैनपावरग्रुप के सर्वेक्षण के अनुसार कुल मिलाकर भारत के रोजगार बाजार में निरंतरता दिखती है। यद्यपि यह बदलाव के दौर से गुजर रहा है जिसकी वजह से रोजगार की रफ्तार धीमी है।

ब्रिटेन के संकटग्रस्त कार बाजार को एक और बड़ा झटका: वेल्स का इंजन कारखाना करेगी बंद फोर्ड, 1700 लोग हो जाएंगे बेरोजगार

Samachar Jagat

रोजगार बाजार में क्षेत्रवार सेवा क्षेत्र के तीसरी तिमाही में बढ़त बनाने की उम्मीद है। सेवा क्षेत्र में रोजगार परिदृश्य 16 प्रतिशत रहने और उसके बाद खनन एवं निर्माण, थोक एवं खुदरा व्यापार और विनिर्माण क्षेत्र के 11 प्रतिशत रहने की उम्मीद है। -एजेंसी

एआईएसईसीटी और माइक्रोफोकस हर साल 500 विद्यार्थियों को देंगे प्रशिक्षण


 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.