विद्यार्थियों में विज्ञान और टेक्नोलॉजी के प्रति जागृति पैदा करेंगे स्टार्ट अप बूट क्लब्स

Samachar Jagat | Wednesday, 14 Mar 2018 12:21:32 PM
Start up boot clubs will create awareness in students about science and technology

जयपुर। राजस्थान में छात्रों को विज्ञान ओर तकनीक में दक्ष बनाने के लिए शुरू किए जा रहे स्टार्ट अप बूट क्लब की प्रक्रिया पूर्ण कर ली गई है और शीघ्र ही प्रदेश के चुनिंदा राजकीय विवेकानन्द मॉडल विद्यालयों में क्लब्स खोलने की शुरुआत की जाएगी। विज्ञान एवं तकनीक शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने आज यहां कहा कि योजना के तहत प्रथम चरण में प्राथमिकता के आधार पर 71 मॉडल स्कूलों में स्टार्ट अप बूट क्लब स्थापित किए जाएंगें।

इन मॉडल स्कूलों की स्थापना राज्य के पिछड़े ब्लॉकों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए की गई है। उन्होंने कहा कि इन स्टार्ट अप बूट क्लब का मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों में विज्ञान, टैक्नोलॉजी, आई.टी. के प्रति जागृति उत्पन्न करना है। इन क्लबों में माइक्रो प्रोसेसर बेस इलेक्ट्रोनिक किट, सेंसर किट एवं रोबोटिक किट के संयोजन से विद्यार्थियों में प्रोग्रामिग के माध्यम से नवाचारों, क्रियात्मकता को बढ़ावा दिया जाएगा।

कंप्यूटर की इन 'शॉर्टकर्ट की' से काम करना होगा आसान

उन्होंने कहा कि विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्बारा प्रति विद्यालय स्टार्ट अप बूट क्लब में 10 किट एवं प्रथम चरण में 71 मॉडल विद्यालयों में 710 किट वितरित की जाएंगी। इस किट का उपयोग कक्षा 8 से 10 तक के विद्यार्थी कर पाएंगे। माहेश्वरी ने कहा कि इन मॉडल विद्यालयों के शिक्षकों को किट की कार्यप्रणाली को समझाने के लिए आज से पांच दिवसीय तकनीकी प्रशिक्षण कार्यक्रम भी शुरू किया गया है। स्टार्ट अप बूट क्लब के माध्यम से राज्य के विद्यार्थी भविष्य में होने वाले टेक्नोलोजी परिवर्तन के लिए तैयार हो पाएंगे एवं उनमें उद्यमशीलता के कौशल का विकास हो सकेगा।

इन स्मार्टफोन में बिना टच किए रिसीव कर सकते है कॉल

उल्लेखनीय है कि केरल राज्य में भी विद्यार्थियों के लिए माइक्रो प्रोसेसर बेस्ड किट सफलता पूर्वक पूर्ण किया जा चुका है। राज्य सरकार ने इस किट को सेंसर एवं रोबोटिक के साथ जोड़ते हुए एक नवीन एवं अभिनव सेट तैयार करवाया है, जिससे ना केवल स्कूल के विद्यार्थियों में प्रोग्रामिग में रूचि जागृत होगी बल्कि रोबोटिक्स और सेंसर किट के माध्यम से व्यवहारिक अनुप्रयोग भी सीख पाएंगे।

एक्सिस बैंक जल्द लाएगा व्हाट्सऐप से भुगतान की सुविधा

उन्होंने कहा कि नीति आयोग के कार्यक्रम 'अटल इनोवेशन मिशन’ में स्कूलों के लिए अटल टिकर लैब में भी विद्यार्थियों को इन्टरनेट ऑफ थिंग्स, इलेक्ट्रोनिक किट के माध्यम से नवाचार एवं क्रियात्मकता को बढावा देने के लिए प्रयास किए जा रहे है। एजेंसी

अगर गर्लफ्रेंड नाराज है और कॉल नहीं उठा रही तो विडियो मैसेज से कहें दिल की बात

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.