मजदूरों के बेरोजगारी का कारण बन रहा नोटबन्दी ,मजबूरी में करा रहे नसबंदी

Samachar Jagat | Saturday, 26 Nov 2016 11:48:48 AM
मजदूरों के बेरोजगारी का कारण बन रहा नोटबन्दी ,मजबूरी में करा रहे नसबंदी

नोटबन्दी का फैसला आये हुए पूरा महीना बीतने को आया है। आये दिन नई नई बातें सुनने को मिलती है। कहीं लोग घँटों एटीएम और बैंको में लाइन लगाकर खड़े है, कही इसी वजह से आपस में फुट हो गयी, तो कही कुछ तो कहीं कुछ। अब खबर आयी है, की नोटबन्दी के कारन कई गरीब मजदुर बेरोजगार हो रहे है, जिसकी वजह से उन्हें नसबन्दी करानी पड़ रही है। 

इंदौर-पटना ट्रैन हादसा ,पीड़ितों को बाटें पुराने नोट

पीसीआई के टीम लीडर संदीप पांडेय के अनुसार, 20 अक्तूबर से 25 नवंबर के बीच कुल 49 दिहाड़ी मजदूरों की नसबंदी हुई है। इनमें से 39 की नसबंदी नोटबंदी के 15 दिनों में हुई है। नसबंदी कराने वालों में सबसे कम उम्र का एक युवक मात्र 23 साल का है।

अब होगा काले धन पे शिकंजा

तो इसी को दर्शाता मेरा ये कार्टून आपके लिए। 

read more :

अब होगा काले धन पे शिकंजा 

नोटबंदी के दौर में हालात कुछ युं

नोटबन्दी में नया आयाम, शादी खर्च के लिए निकाल सकते है 2.5 लाख रूपए

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.