भाजपा विधायक संगीत सोम पर 43 लाख रूपये की घूस लेने का आरोप

Samachar Jagat | Monday, 11 Jun 2018 09:36:49 AM
BJP legislator music mon, charged with taking bribe of Rs 43 lakh

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

मेरठ। 'ना खाएंगे और ना खाने देंगे' वाली पार्टी के एक चर्चित विधायक पर काम दिलाने के बहाने रिश्वत लेने का आरोप लगा हैं। बताया जा रहा हैं कि विधायक ने एक ठेकेदार से सरकारी ठेका दिलाने के बदले ये राशि ली हैं। फिलहाल पुलिस मामले की जांच की कर रही हैं। 

हॉकी मैच के दौरान बिजली गिरने से तीन दर्शकों की मौत, दो घायल

भारतीय जनता पार्टी के चर्चित विधायक संगीत सोम पर काम दिलाने के नाम पर 43 लाख रुपये हड़पने का आरोप लगा हैं। ये आरोप मेरठ के ठेकेदार संजय प्रधान ने लगाया हैं। संजय प्रधान का आरोप हैं कि विधायक संगीत सोम ने सरकारी ठेका दिलाने के लिए कहा था और 43 लाख रुपये भी लिए थे। रिश्वत की रकम देने के बावजूद न तो ठेका मिला और न ही पैसे वापस मिले। संजय ने बताया कि मेरठ के दादरी में सरकारी कॉलेज बनाने का ठेका दिलाने के लिए विधायक ने उनसे 43 लाख रुपये लिए थे। 

छतरपुर मुठभेड़: दिल्ली पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की

बता दें, संजय प्रधान भाजपा जिला कार्यकारिणी के सदस्य हैं। संजय प्रधान कल रात एसएसपी आवास पहुंचे और उन्होंने लिखित में शिकायत दी। संजय प्रधान पीडब्ल्यूडी और अन्य विभाग में ठेकेदारी का काम करते हैं। संजय ने पुलिस को बताया कि पैसे तीन किश्तों में दी हैं। काम नहीं होने पर जब पैसे वापस मांगे तो विधायक के के लोगों ने उसे टरकाना शुरू कर दिया। मेरठ के एसएसपी राजेश कुमार पाण्डेय मामले की जांच कर रहे हैं। 

असम में दो युवकों की पीट पीटकर हत्या करने के मामले में जांच का आदेश

वहीँ विधायक संगीत सोम ने कहा कि मैं किसी संजय प्रधान को नहीं जानता हूं। मैंने किसी से पैसे नहीं लिए हैं। ये आरोप बिलकुल बेबुनियाद हैं। बता दें संगीत सोम मेरठ की सरधना सीट से विधायक हैं। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.