अशोक गहलोत सरकार के इस फैसले के विरोध में उतरे उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट, बोल दी ये बड़ी बात

Samachar Jagat | Saturday, 19 Oct 2019 12:52:17 PM
Deputy Chief Minister Sachin Pilot landed in protest against Ashok Gehlot government's decision

जयपुर। राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने पार्षद के चुनाव में हिस्सा लिए बिना अथवा यह चुनाव हारा हुआ प्रत्याशी भी मेयर, सभापति या पालिकाध्यक्ष चुना जा सकेगा, इस प्रकार की व्यवस्था को लागू कर दिया है। भाजपा नेताओं के बाद इस व्यवस्था का अब कांग्रेस सरकार के मंत्री भी विरोध कर रहे हैं। वह सरकार की इस नीति को गलत बनात रहे हैं। 

राजस्थान सरकार ने किया अब एक और चौंकाने वाला फैसला, प्रदेश के तीन जिलों में होंगे दो-दो नगर निगम

इसका विरोध करने वाले मंत्रियों में अब राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट भी शामिल हो गए हैं। राजस्थान कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने सरकार के इस फैसले को व्यावहारिक और राजनीतिक दोनों ही दृष्टिकोणों से सही नहीं माना है।

युवती के साथ पहले किया बारी-बारी से बलात्कार, जब इससे भी नहीं भरा मन तो पार कर दी हैवानियत की सारी हदें

इस संबंध में सचिन पायलट ने कहा कि मेयर, सभापति या पालिकाध्यक्ष चुनने के हाईब्रिड तरीके पर न ही विधायक दल बैठक में चर्चा हुई, न ही सदन या कैबिनेट में। 

उन्होंने यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह यदि नगरपालिका एक्ट के तहत इस प्रकार का निर्णय लेना चाहते हैं तो यह न तो व्यावहारिक और न ही राजनीतिक दृष्टिकोण से सही है। सचिन पायलट ने राजस्थान सरकार के इस निर्णय में बदलाव की आवश्यकता पर जोर दिया है। 
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.