दीयाकुमारी ने शाला की लगभग 200 वर्षों पुरानी परंपरागत लाठी देकर भगत सिंह को किया गुरू के रूप में नियुक्त

Samachar Jagat | Sunday, 17 Mar 2019 03:27:12 PM
Diya Kumari appointed Bhagat Singh as a guru by giving traditional sticks around 200 years old

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

जयपुर। बलवंत व्यायाम शाला प्रांगण चौगान स्टेडियम के पीछे शनिवार को श्री राम जानकी विवाहोत्सव महाराज सोहन सिंह राठौड़ के सानिध्य में बड़ी धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर जयपुर की राजकुमारी दीया कुमारी मुख्य अतिथि रहीं, राजकुमारी के करकमलों से वर्तमान संचालक भगत सिंह को शाला की लगभग 200 वर्षों पुरानी परंपरागत लाठी देकर गुरू के रूप में नियुक्त किया गया। 


यही लाठी 40 वर्ष पूर्व गुरू सुमेर सिंह को महाराजा भवानी सिंह, तत्कालीन शिक्षा मंत्री भंवरलाल शर्मा व गुरू बलवंत सिंह द्वारा भेंट कर गुरू पद दिया गया था। इस अवसर पर दामारामगढ़ ठिकाने के डा. जितेंद्र सिंह दाता व मिठडी ठिकाना नागौर के डा. विजेंद्र सिंह राठौड भी उपस्थित रहे। 

राजकुमारी दीया कुमारी की उपस्थिति में शाला के बच्चों द्वारा लाठी, चक्र आदि का प्रर्दशन किया गया। इस कार्यक्रम में समाज सेवी अखिल भारतीय रावणां राजपूत महासभा के अध्यक्ष रणजीत सिंह सोडाला व सभी सत्संगियों को सदस्यों के द्वारा भोजन प्रसादी कराई गई। 
 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.